लगातार चौथे दिन भारी बारिश की चपेट में मुम्बई, राजस्थान में थमी बरसात


महाराष्ट्र की राजधानी को चार दिन बाद भी भारी बरसात से मुक्ति मिलती नहीं दिख रही है. मुंबई के कई हिस्सों के लोग अब भी जल भराव की समस्या से जूझ रहे हैं. पालघर, ठाणे और नवी मुंबई में पिछले चार दिनों से बारिश हो रही है. मंगलवार सुबह भी हिंदमाता, कोलाबा, माटुंगा, दादर, सांताक्रूज और सायन के कई इलाकों में पानी भरा रहा. नाला सोपारा रेलवे स्टेशन के ट्रैक पर लगातार दूसरे दिन पानी भरने के कारण वेस्टर्न रेलवे लाइन पर ट्रेनों की आवाजाही पर असर पड़ा. इसके कारण, बोरीवली-चर्चगेट, सेंट्रल लाइन और हार्बर लाइन पर ट्रेनें 15 से 20 मिनट की देरी से चलीं.

वेस्टर्न रेलवे के डिविजनल मैनेजर का कहना है कि नाला सोपारा के रेलवे स्टेशन के ट्रैक पर पानी 185 मिमी ऊपर था. इसके कारण लोकल ट्रेनें बेहद धीमी गति से चलीं, वहीं एसी ट्रेन सर्विस को बंद करना पड़ा. विरार और बोरीवली के बीच लोकल ट्रेनें नहीं चल पाईं. यह भी खबर आ रही है कि वेस्टर्न लाइन पर रेल सर्विस बंद होने की वजह से 12 पैसेंजर ट्रेनों को मुंबई के पहले रोक दिया गया है. भारी बरसात के कारण डिब्बा वालों ने मंगलवार को अपनी सर्विस बंद रखने का फैसला किया. भारी बारिश के कारण कई जगह हादसे भी हुए. बोरीवली में तीन घरों का बड़ा हिस्सा गिर गया.

मौसम विभाग के अनुसार, पिछले 24 घंटे में मुंबई में 165.8 मिमी और उपनगरों में 184 मिमी बारिश दर्ज की गई है. मौसम विभाग का यह भी कहना है कि मुंबई, ठाणे, रायगढ़ और पालघर में 10 से 13 जुलाई के बीच भारी बारिश हो सकती है. इधर, राजस्थान के ज्यादातर इलाकों में बारिश थम गई है. हालांकि, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में राज्य के 13 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग के अनुसार, अगले दो दिनों में चक्रवात महाराष्ट्र से गुजरात की तरफ बढ़ेगा, जिसके कारणा इन राज्यों में अच्छी बारिश होने की उम्मीद है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *