जिंदा मिले थाईलैंड की गुफा में फंसे फुटबॉलर, बाहर आने में लग सकता है 4 महीने का वक्त


9 दिन से थाईलैंड की गुफा थैम लुआंग में फंसे जूनियर फुटबॉल टीम के 12 खिलाड़ी और उनके कोच सही सलामत बचा लिए गए हैं. अमेरिकी गोताखोरों ने सोमवार शाम उन्हें खोज निकाला. हालांकि अभी तक वे बाहर नहीं निकाले गए हैं, लेकिन गोताखोरों ने मोबाइल से उनका वीडियो बनाया है और बात भी की है. वे जहां पर फंसे हुए हैं, वहां अंदर जाने का पर्याप्त रास्ता नहीं है. अभी उस गुफा में पानी भरा है, इसलिए उन्हें बाहर निकालने में अभी महीनों लग सकते हैं. कहा जा रहा है कि उन्हें निकलने के लिए या तो तैराकी सीखनी होगी या फिर बाढ़ का पानी उतरने का इंतजार करना होगा.

बताया जा रहा है कि बाढ़ का पानी उतरने में अक्टूबर तक का समय लग सकता है. ऐसी हालत में गुफा में फंसे खिलाड़ियों के लिए अगले 4 महीने का खाना जुटाना भी गंभीर चिंता की बात है. गौरतलब है कि अंडर-16 फुटबॉल टीम के 16 सदस्य और कोच फुटबॉल के अभ्यास मैच के बाद गुफा देखने गए थे. जब वे वहां पर थे, तभी वहां भारी आई बारिश और बाढ़ आ गई. उससे बचने के लिए वे 10 किलोमीटर लंबी गुफा में शरण ले लिए थे. वे वहां पर छुपे थे, तभी पानी का स्तर बढ़ा और उससे गुफा का रास्ता बंद हो गया.

इन सभी खिलाड़ियों और कोच की तलाश और बचाव कार्य में 1200 जवान लगे हैं. डॉक्टरों का कहना है कि गुफा में पीने लायक पानी होने की वजह से ये अब तक जिंदा हैं. यह गुफा म्यांमार और लाओस बॉर्डर के पास नेशनल पार्क के भीतर स्थित है. गोताखोरों का कहना है कि इस गुफा में छोटी-छोटी सुरंगें हैं और ये कई किलोमीटर तक हैं. यहां तापमान 21 डिग्री है और बहुत दलदल है, जिसके कारण खुद को खड़ा रखना बहुत मुश्किल है. इसलिए ऑक्सीजन की कमी दूर करने के लिए 200 सिलेंडर बुलावाए गए हैं.