पाकिस्तान पहुंचते ही अरेस्ट किए जाएंगे नवाज़ शरीफ

nawaz-shafif-will-be-arrest-in-pakistan

भ्रष्टाचार के मामले में सजा पाने वाले पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अपनी बेटी के साथ कुछ ही देर में लाहौर लौटने वाले हैं। घोटालेबाज और भ्रस्त राजनेताओं को जेल पहुचाने का सिल सिला भारत मे लालू यादव से शुरु हो चुका है,अब पाकिस्तान के नवाज शरीफ भी 10 साल तक पाक मीडिया का मानें तो उन्हें गिरफ्तार करने की तैयारियां कर ली गई हैं। कोर्ट ने शरीफ को 10 साल और उनकी बेटी के 7 साल की सजा सुनाई है। लंदन से लौटते समय उनकी फ्लाइट अबुधाबी रुकी।

फ्लाइट करीब 2 घंटे लेट होने की वजह से अब करीब लाहौर के लिए निकलने से पहले शरीफ ने अपने समर्थकों के लिए एक विडियो मेसेज भी भेजा है। इस मेसेज में उन्होंने कहा, ‘जो मेरे बस में है और जो मेरे बस में था, वह मैंने कर दिया है। मुझे मालूम है कि लाहौर पहुंचते ही मुझे जेलखाने भेज दिया जाएगा, लेकिन पाकिस्तानी कौम को मैं बताना चाहता हूं कि यह सब मैं आप के लिए कर रहा हूं। यह कुर्बानी मैं आपकी नस्ल के लिए दे रहा हूं। लिहाजा मेरा भरपूर साथ दें।’

नवाज के पाक पहुंचने से पहले ही यहां के प्रशासन ने उनकी पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) कार्यकर्ताओं के खिलाफ बड़े पैमाने पर कारवाई शुरू कर दी है। अब तक 300 से अधिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। इसके बावजूद पार्टी कार्यकर्ताओं ने एयरपोर्ट पर नवाज के स्वागत के लिए मौजूद होने का दावा किया है। आपको बता दें कि नवाज की गिरफ्तारी के लिए तीन हेलिकॉप्टर भी रखे गए हैं।

बता दें कि 2016 में पनामा पेपर केस में नाम आने के बाद नवाज शरीफ को जुलाई 2017 में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। जांच के बाद शरीफ और उनकी बेटी मनी लॉन्ड्रिंग का केस चलाया गया था। पाकिस्तानी ट्राइब्यूनल कोर्ट ने पिछले शुक्रवार को शरीफ और उनकी बेटी मरियम को दोषी पाया और कैद की सजा सुनाई। दोनों को उनकी अनुपस्थिति में सजा सुनाई गई, दोनों उस दौरान लंदन में थे, वहीं शरीफ की पत्नी गंभीर तौर पर बीमार हैं।

पाकिस्तान में चुनाव जुलाई 25 से होने हैं। इस मामले का असर पाकिस्तान के चुनाव पर भी होगा। तहरीक-ए-इंसाफ के प्रमुख इमरान खान को इसका सबसे ज्यादा फायदा होगा। शरीफ के खिलाफ याचिका देने वालों में एक इमरान खान भी थे।