मोदी का दो दिवसीय यूपी दौरा, पूर्वांचल को देंगे कई योजनाओं की सौगात


प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को उत्तर प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर जाने वाले हैं. आगामी चुनावों को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी का यह दौरा महत्वपूर्ण माना जा रहा है. इस दौरे में मोदी कई योजनाओं का शिलान्यास व उदघाटन करेंगे. इसके अलावा उनकी एक जनसभा भी प्रस्तावति है. इस दौरे के पहले दिन प्रधानमंत्री मोदी आजमगढ़ पहुंचेंगे. यहां वे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास करेंगे और इसके बाद एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे. इसके बाद वे वाराणसी पहुंचेंगे, वहां भी उन्हें कई योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण करना है.

मोदी जिस पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का शिलान्यास करेंग, वो 354 किलोमीटर लंबी होगी और उसकी अनुमानित लागत 1156 करोड़ रुपए है. लखनऊ से गाजीपुर के बीच यह एक्सप्रेसवे आजमगढ़, फैजाबाद, बाराबंकी, मउ, अम्बेडकरनगर और सुल्तानपुर को जोड़ेगा. इस एक्सप्रेसवे के बनने के बाद लखनऊ से गाजीपुर का सफर तीन घंटे कम हो जाएगा, जिसमें अभी करीब साढ़े सात घंटे लगते हैं. प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को ही वाराणसी के राजातालाब के कचनार में 21 योजनाओं का लोकार्पण और 12 का शिलान्यास करेंगे. इसके बाद वे वाराणसी से बलिया तक चलने वाली मेमू ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे.

अगले दिन यानि 15 जुलाई को प्रधानमंत्री मिर्जापुर में बाणसागर परियोजना का उद्घाटन करेंगे. मोदी वाराणसी को जिन योजनाओं की सौगात देंगे, उनकी अनुमानित लागत 936 करोड़ से ज्यादा बताई जा रही है. इनमें से 449 करोड़ की 21 योजनाओं का वे लोकार्पण करेंगे और 487.66 करोड़ रुपए की 12 योजनाओं का शिलान्यास करेंगे. अपने इस दौरे के जरिए प्रधानमंत्री मोदी पूर्वांचल के 24 जिलों की 32 लोकसभा सीटों को साधने की कोशिश करेंगे. गौरतलब है कि 2014 में भाजपा का वोट प्रतिशत 42.3% रहा था, जबकि पूर्वांचल में 43.8% था.