पाकिस्तान के पेशावर में चुनावी रैली के दौरान आत्मघाती हमला, 20 की मौत


मंगलवार देर रात पाकिस्तान के पेशावर में एक आत्मघाती हमला हुआ. एक चुनावी रैली में हुए इस हमले में 20 लोगों की मौत हो गई, वहीं 50 से ज्यादा लोग घायल हैं. मारे गए लोगों में अवामी नेशनल पार्टी (एएनपी) के एक नेता हारून बिलौर भी शामिल हैं. बिलौर पेशावर शहर की पीके-78 सीट से उम्मीदवार थे. इस रैली में वे दूसरे नेताओं के साथ मुलाकात के लिए रुके थे. वे जैसे ही रैली के स्टेज पर पहुंचे, हमलावर ने खुद को उड़ा लिया. हमले में बिलौर को काफी चोटें आईं, जिसके बाद उन्हें जल्द ही नजदीक के एक अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

गौरतलब है कि हारून बिलौर के पिता, एएनपी के पूर्व नेता बशीर अहमद बिलौर की मौत भी एक ऐसे ही आत्मघाती हमले मेें हुई थी. 2012 में एक पार्टी मीटिंग में हुए आत्मघाती हमले में वो मर गए थे. उस हमले की जिम्मेदारी तालिबान ने ली थी. इस हमले के पीछे कौन है, इसकी जांच चल रही है. बम निरोधक दस्ते के प्रमुख शौकत मलिक ने मीडिया को बताया कि इस हमले में करीब 8 किलो डायनामाइट का इस्तेमाल किया गया था. राहत और बचाव कार्य के लिए कई टीमें मौके पर जुटी हैं और सुरक्षा एजेंसियां मामले की जांच कर रही हैं.

पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव से पहले यह दूसरा बड़ा आतंकी हमला है. इस महीने की शुरुआत में ही खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के तख्तीखेल में भी एक धमाका हुआ था, जिसमें 7 लोग घायल हुए थे. इनमें मुत्ताहिदा मजलिस-ए-अमल पार्टी का एक उम्मीदवार भी शामिल था. चुनाव चुनावी रैली के दौरान बम धमाके की घटना पर पाकिस्तान के चुनाव आयुक्त सरदार मुहम्मद रजा ने नाराजगी जताई है. उन्होंने कहा है कि ये हमारे सुरक्षा संस्थानों की कमजोरी दिखाता है और साथ ही ये पारदर्शी चुनावी प्रक्रिया के खिलाफ एक साजिश है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *