भाजपा नेता का बयान- इमरान खान के शपथ समारोह में जाने वाले आतंकवादी

पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान 11 अगस्त को शपथ लेने वाले हैं.  इस मौके पर उन्होंने भारत से कुछ विशिष्ट अतिथियों को अपने शपथग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रण दिया है. इन लोगों में पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू, सुनील गावस्कर और कपिल देव का नाम शामिल है. वहीं फिल्म जगत से आमिर खान को भी न्यौता मिला है.

नवजोत सिंह सिद्धू ने इस न्यौते को  यह कहते हुए स्वीकार कर लिया कि ‘वे राजनीति में खरोंच सहकर खड़े हुए हैं, वे एक महान चरित्र हैं और मेरे लिए यह बड़े सम्मान की बात है कि यह उनकी तरफ से निजी निमंत्रण है ना कि राजनीतिक. वहीं कपिल देव का कहना है उन्हें अभी तक निमंत्रण नहीं मिला है, यदि निमंत्रण मिलता है तो वे जरूर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में जाएंगे.

इस मामले पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि पाकिस्तान जाने वालों को आतंकवादी माना जाएगा. उन्होंने कहा, ‘जो लोग पाकिस्तान जाएंगे उन्हें ब्लैकलिस्ट कर देना चाहिए. इसे सुरक्षा के लिहाज से देखना चाहिए. जो पाकिस्तान जाएगा उन्हें आतंकवादी कहा जाएगा.

पंजाब के अमरिंदर सिंह सरकार में मंत्री सिद्धू ने कहा, ”मैं सरकार की विदेश नीति का सम्मान करता हूं, लेकिन ये एक व्यक्तिगत निमंत्रण है, मुझे लगता है खिलाड़ी और कलाकार बंधनों को तोड़ते हैं. इमरान एक महान नेता हैं, उनके शपथ ग्रहण का न्योता आना हमारे लिए सम्मान की बात है.

इस बीच खबर आई है कि पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में किसी भी विदेशी नेता को नहीं बुलाया जाएगा. इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में केवल करीबी दोस्त ओर कुछ ख़ास लोग ही शामिल होंगे. गौरतलब है कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने शपथ ग्रहण समारोह में तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को न्योता दिया था और उन्होंने शिरकत की थी.