केरल बारिश: 4000 लोगों को बाहर निकाला गया, स्कूल, ऑफिस सब बंद

kerla

केरल के कोच्चि के इरनाकुलम जिले में शुक्रवार को बाढ़ का कहर देखने को मिला, दरअसल इडुक्की जलाशय के चौथे दरवाजे को खोलने के बाद पेरियार नदी का जलस्तर इतना बढ़ गया है कि इरनाकुलम लगभग डूब गया है. जिसके बाद इस इलाके में लोगों को मुश्किल हालातों का सामना करना पड़ रहा है और वो यहां से पलायन भी कर रहे हैं.

बारिश की वजह से बिगड़े हालात को देखते हुए प्रशासन ने आज 12वीं तक के सभी सरकारी-निजी स्कूलों और कॉलेज को बंद करने का आदेश दिया हैं. और कोच्चि एयरपोर्ट के डूबने की आशंका भी जताई जा रही है.

पानी ने पहले ही शहर के निचले इलाकों के लिए खतरा पैदा कर दिया है. इरनाकुलम के जिला कलेक्टर मोहम्मद सफीरुल्ला ने कहा, ‘हम हाई अलर्ट पर हैं. निचले इलाकों में रह रहे कम से कम 4000 लोगों को राहत एवं बचाव कैंप में भेज दिया गया है.

बारिश की वजह से अब तक यहां पर कम से कम 26 लोगों की मौत हो चुकी है और बहुत से लोग गायब हैं. सरकार द्वारा मदद मांगने के बाद भारतीय नौसेना की चार टीमें और एक सी किंग हेलिकॉप्टर वायानाड में फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए पहुंच चुके हैं.

शुक्रवार को केंद्र ने केरल सरकार को बारिश और बाढ़ से राहत और बचाव के लिए हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया है. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के साथ टेलीफोन पर बातचीत के दौरान यह आश्वासन दिया.

 

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *