महाराष्ट्र: कीकी चैलेंज कर रहे थे लड़के, कोर्ट ने सुनाई अनोखी सजा

KIKI-CHALLANGE

मुबंई में एक बार फिर किकी चैलेंज का मामला सामने आया है. तीन लड़के मुंबई की लोकल ट्रेनों और स्टेशन पर किकी चैलेंज को अपनी स्टाइल में करते नज़र आए, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें धर दबोचा और दिलचस्प बात यह है कि इन तीनों लड़कों को कोर्ट ने एक अनोखी सजा सुनाई है.

दरअसल, दुनियाभर में  किकी चैलेंज थमने का नाम नहीं ले रहा है. मुंबई पुलिस के सख्त आदेशों के बाद भी लोग अपनी जान को खतरे में डालकर किकी चैलेंज को करने में लगे हैं.

डीएससी अनूप शुक्ल ने बताया कि तीनों ने ट्रेन से उतरकर किकी चैलेंज किया और फिर दोबारा ट्रेन में चढ़ गए, जिसका एक वीडियो भी बनाया और उसे यूट्यूब पर अपलोड कर दिया. इनके इस वीडियो को करीब 15 लाख लोगों ने देखा. पुलिस को जैसे ही इनके बारे में पता चला पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए वीडियो और रेलवे स्टेशन पर लगे सीसीटीवी की जांच की और इन्हें गिरफ्तार कर रेलवे कोर्ट में पेश किया.

सुनवाई में कोर्ट ने कहा कि इस चैलेंज को रोकने के लिए सजा से ज्यादा जरूरी जागरूकता है. ‘आप तीनों युवा हैं, लेकिन आपने गलत काम किया है, इस तरह का स्टंट करना खतरनाक होता है. कोर्ट ने सजा के तौर पर इन्हें लोगों के बीच में जागरूकता बढ़ाने के साथ-साथ कहा आप तीनों तीन दिनों तक रेलवे स्टेशन की सफाई करेंगे और लोगों को बताएंगे कि कीकी चैलेंज कितना खतरनाक है.

तीनों लड़के अब तीन दिनों तक सुबह 11 से शाम 5 बजे तक रेलवे स्टेशन की सफाई करेंगे.. दोपहर 2-3 बजे तक उन्हें ब्रेक भी मिलेगा. 13 अगस्त को उन्हें कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा, जहां वे बताएंगे कि उन्होंने इन तीन दिनों में क्या क्या काम किया.

बता दे केवल महाराष्ट्र ही देश का ऐसा पहला राज्य है जहां सबसे पहले कीकी चैलेंज को लेकर गाईडलाइन जारी की गई है, और अब सबसे पहले सजा भी इसी राज्य में दी गई है.