लंबे समय तक बैठने से हो सकती है ये गंभीर बीमारियां, करें ये उपाय

अगर आप भी ऑफिस में दिन भर बैठे-बैठे काम करते है तो सावधान हो जाइए. एक शोध में बताया गया है कि बहुत ज्यादा देर तक बैठे रहने से मस्तिष्क पर बुरा असर पड़ता है. मध्यम और अधिक आयु वर्ग के लोगों पर एक प्रारंभिक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि बहुत ज्यादा देर तक बैठे रहने से मस्तिष्क के उस हिस्से में कमजोरी आ सकती है जो याद्दाश्त के लिए जिम्मेदार है.

जैसे कि आजकल ज्यादातर लोग ऑफिस में कंप्यूटर के आगे घंटो बैठे रहते हैं. ऐसे में उनको ध्यान रखने की जरूरत है. अगर आप हर आधा घंटे में उठकर दो मिनट के लिए टहल लें तो यह आपके दिमाग में रक्‍त के संचार को बढ़ाता है. इससे पहले मनुष्‍यों और जानवरों पर हुई स्‍टडी बताती हैं कि दिमाग में रक्‍त के संचार में थोड़ी सी भी रुकावट आने पर सोचने-समझने की क्षमता और मेमोरी पर प्रभाव पड़ता है. वहीं लंबे समय तक रक्‍त का संचार रुकने पर दिमाग से संबंधित बड़ी बीमारियों का जन्‍म हो सकता है. इनमें डेमेंशिया और मेमरी लॉस तक हो सकता है.

पहले जो अध्धयन हुए थे, उसमें बताया गया था कि लगातार बैठे रहने से शरीर के सभी हिस्‍सों में रक्‍त का संचार प्रभावित होता है. इनमें सबसे ज्‍यादा असर हमारे पैरों पर पड़ता है. यहां तक कि लंबे समय तक एक ही जगह पर और एक ही स्थिति में बैठे रहने से पैरों में अपंगता तक आ सकती है.

लंबे समय तक बैठे रहने की यह स्टडी  इंग्‍लैंड की Liverpool John Moores University में की गई है. इसमें शोधकर्ताओं ने ऑफिस में अपने 15 लोगों को 4 घंटे तक एक ही स्थान पर बैठाकर काम करवाया. ये लोग केवल बाथरुम के लिए ही अपनी सीट से उठकर जाते थे. शोधकर्ताओं ने इनके हर ब्रेक से पहले और बाद के ब्‍लड सर्कुलेशन को ट्रैक किया. यहां तक कि 4 घंटे पूरे हो जाने के तुरंत बाद भी रक्‍त के संचार को लेकर स्‍टडी की गई.

स्टडी में पाया गया कि 4 घंटे लगातार बैठने से दिमाग में रक्‍त का संचार कम हो गया था. लेकिन ब्लड फ्लो बढ़ा जब उन्‍होंने 2 मिनट के लिए वॉक की. अगर आप भी एक ही स्थान पर घंटो बैठकर काम करते हैं तो  कुछ-कुछ देर में टहलने की आदत बना लीजिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *