मानव तस्करी का हब बनती दिल्ली, पहाड़गंज से छुड़ाई गईं 39 लड़कियां

racket

राजधानी दिल्ली अब धीरे- धीरे अपराधों का शहर बनता जा रहा है. आए दिन दिल्ली में कोई न कोई बड़ी घटना होना आम बात हो गई है. दिल्ली में ऐसी ही एक हैरान करन करने वाली बड़ी घटना सामने आई है. दिल्ली में मंगलवार रात एक सैक्स रैकेट का पर्दाफाश हुआ. इस रैकेट में 39 लड़कियों को पहाड़गंज के होटल से छुड़ाया गया. इन लड़कियों को नेपाल से यहां लाया गया था. दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालावाला ने दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर इस रैकेट का पर्दाफाश कर लड़कियों को आजाद कराया.

पुलिस ने बताया कि इन लड़कियों को कुछ दिन से कमरे में कैद करके रखा गया था और जल्द ही खाड़ी देशों में इनकी तस्करी होने वाली थी. स्वाति मालावाल ने इन लड़कियों को आश्रय गृहों में भेजा है और इन्हें वापस भेजने के लिए नेपाली दूतावास से भी संपर्क किया जा रहा है. इन महिलाओं को जहां रखा गया था, वहां से 68 पासपोर्ट भी बरामद किए गए, जिनमें से सात भारतीय पासपोर्ट हैं.

इन महिलाओं ने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष को बताया कि इन्हें नौकरियों का झांसा दिया गया और यहां लाया गया. ये नेपाल के भूकंप प्रभावित क्षेत्रों की रहने वाली हैं और बहुत गरीब हैं. इनमे से ज्यादातर ने भूकंप में अपने घर-परिवार गंवा दिए हैं. इनकी उम्र 18 से 30 साल के बीच है.’

इससे पहले भी स्वाति मालीवाल ने मंगलवार की शाम में वसंत विहार पुलिस थाना क्षेत्र से 18 महिलाओं को छुड़ाया था. इन्‍हें साउथ दिल्ली के इलाके में पिछले कुछ दिनों से एक कमरे में रखा गया था. इनसे इनके पासपोर्ट भी छीन लिए गए थे.  इन्‍हें इराक और गल्फ कंट्री में देह व्यापार के लिए भेजने की तैयारी थी. इन 16 लड़कियों में से 7 लड़कियों को इराक और बाकी को दूसरी गल्फ कंट्री में भेजा जाना था.

मालीवाल ने कहा, ‘दिल्ली मानव तस्करी का केंद्र बन गया है. दिल्ली महिला आयोग को इन रैकेटों के बारे में पता चलता है, अन्य राज्यों की पुलिस को उनके बारे में पता चल जाता है, लेकिन दिल्ली पुलिस को पता नही चल पाता. दिल्ली पुलिस सोती

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *