केजरीवाल ने शुरू की डोर स्टेप डिलीवरी योजना, अब घर बैठे मिलेंगी सुविधाएं

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को दिल्ली सचिवालय में डोर स्टेप डिलीवरी योजना का शुभारंभ किया. इस योजना के तहत घर बैठे 40 सेवाओं की सुविधा शुरू हो गई है और तीन माह बाद 100 तरह की सुविधाएं घर बैठे मिल सकेंगी. इस योजना का शुभारंभ करते हुए केजरीवाल ने कहा कि पिज्ज़ा की तरह अब सरकारी सुविधाओं की भी होम डिलीवरी होगी. केजरीवाल ने दावा किया कि पूरी दुनिया के अंदर गवर्नेंस का यह एक नया मॉडल है. इसे लागू करने के लिए हमें बहुत संघर्ष करना पड़ा. केंद्र सरकार से लेकर उपराज्यपाल तक सभी ने इसे रोका. हमने सभी से लड़ाई लड़ते हुए इसे लागू करवाया.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि हम राशन की डोर स्टेप डिलीवरी लागू करवाने में जुटे हुए हैं और हमें उम्मीद है कि इसे जल्द लागू कर दिया जाएगा. जल्द ही इसमें 30 सुविधाएं जोड़ दी जाएंगी. इस योजना के बारे में एक साथ 58 जगहों से अधिकारियों और आम जनता को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बताया गया. साथ ही उनके प्रश्नों के उत्तर भी दिए गए. इस योजना के तहत जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, शादी का पंजीकरण, ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन, नया पानी या सीवर कनेक्शन के लिए आवेदन सहित कुल 40 सेवाएं शामिल हैं.

इन सेवाओं के लिए आवेदक सुबह आठ बजे से रात दस बजे तक 1076 नंबर पर फोन कर सकते हैं. इच्छुक व्यक्ति की सुविधा के अनुसार मोबाइल सहायक को मुलाकात का समय तय करना होगा. वह घर पर या जहां बुलाया जाए वहां आएगा और फॉर्म भरवाएगा और दूसरे ज़रूरी दस्तावेज़ अपलोड करेगा. प्रक्रिया पूरी होने के बाद मोबाइल सहायक 50 रुपये का सुविधा शुल्क लेगा. एक बार में एक ही सेवा के लिए व्यक्ति आवेदन कर सकता है. जिसके बाद जो प्रमाणपत्र आवेदकों को चाहिए वह पोस्ट के जरिये उसके घर पर पहुंच जाएगा. सरकार के मुताबिक जो भी मोबाइल सहायक आवेदक के घर जाएगा उसकी पुलिस जांच पहले से करवाकर रखी जाएगी ताकी कोइ गैरकानूनी काम ना हो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *