आफत बनी बारिश, कई राज्यों में जारी हुआ अलर्ट

देश के उत्तरी राज्यों में बारिश का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. लगातार बारिश से उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यों में अचानक बाढ़ और भूस्खलन के कारण जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा में 11 लोगों की मौत हो गई है. भारी बारिश के मद्देनजर पंजाब में ‘रेड अलर्ट’ जारी कर दिया गया है. साथ ही उत्तर भारत के कई इलाकों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी जारी की गई है. पंजाब में बाढ़ के खतरे को देखते हुए सेना को तैयार रहने को कहा गया है और जिला प्रशासन को भी पर्याप्त मात्रा में नावें तैयार रखने को कहा गया है.

 

दूसरी ओर पंजाब, हरियाणा व चंडीगढ़ में लगातार बारिश से धान व कपास की तैयार खड़ी फसलों को काफी नुकसान हुआ है. पड़ोसी राज्यों हिमाचल व उत्तराखंड के कई हिस्सों में भारी बारिश के कारण पंजाब में सतलज, ब्यास व रावी नदियों के किनारे बसे जिलों व हरियाणा के यमुना किनारे के जिलों में अलर्ट जारी किया गया है.

भारी बारिश के कारण पंजाब के बाद हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में सभी सरकारी और निजी शिक्षण संस्थाएं मंगलवार को बंद कर दिए गए हैं. इसके अलावा आंगनवाड़ी केंद्र को भी बंद रखने का फैसला लिया गया है. सोमवार को वर्षा जनित हादसों मे जम्मू-कश्मीर, हिमाचल और हरियाणा में 11 लोगों की मौत की खबर सामने आई है.

 

हाई अलर्ट पर कुल्लू
हिमाचल प्रदेश में मूसलाधार बारिश से कुल्लू, कांगड़ा और चंबा जिले में अलग-अलग घटनाओं में 5 लोगों की मौत हो गई. कुल्लू जिले को हाई अलर्ट पर रखा गया है. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि राजस्थान में पिछले 24 घंटे में भारी से मध्यम स्तर की बारिश दर्ज की गई.

 

उत्तराखंड में चारधाम यात्रा बाधित
उत्तराखंड में भारी बारिश से बद्रीनाथ, केदारनाथ, यमुनोत्री के सड़क मार्ग बंद हो गए. इससे चारधाम यात्रा बाधित हो गई है. विभिन्न पड़ावों पर फंसे 1340 यात्रियों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है. कैलास मानसरोवर यात्रा पूरी कर पिथौरागढ़ के गुंजी पहुंचे आखिरी दो दल में शामिल 49 यात्री तीसरे दिन भी फंसे रहे. मौसम के खराब होने की वजह से यात्रियों को लाने के लिए पिथौरागढ़ से हेलीकॉप्टर भी उड़ान नहीं भर पा रहे हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *