4 घंटे में 2 किलोग्राम वजन घटाकर मैरी कॉम ने जीता था गोल्ड मेडल

पोलैंड मे आयोजित एक टूर्नामेंट के लिए मैरी कॉम ने चार घंटे में दो किलोग्राम वजन कम किया. हालांकि एसा करना किसी भी खिलाड़ी के लिए एक मुश्किल काम है लेकिन पांच बार वर्ल्ड चैंपियन भारतीय महिला मुक्केबाज मैरी कॉम ने ये कर दिखाया. उन्होंने ना सिर्फ अपना वज़न कम किया बल्कि भारत के लिए गोल्ड मेडल भी जीता. इस बात का खुलासा खुद मैरी कॉम ने किया.

मैरी कॉम ने पोलैंड के टूर्नामेंट में ये कमाल किया और इस वर्ष का अपना म लगभग 3:30 बजे सुबह पहुंचे और हमारा वजन टूर्नामेंट के लिए 7:30 बजे नापा जाना था लेकिन इस दौरान मेरा वजन 48 किलोग्राम से ज्यादा था और मुझे इसी भारवर्ग में मुकाबला लड़ना था मेरे पास सिर्फ चार घंटे का वक्त था और अगर मैं ऐसा नहीं करती तो मैं मुकाबले से बाहर हो जाती. इसके बाद मैंने लगभग एक घंटे और तक स्किपिंग की और इसके बाद कुछ अन्य कसरत भी की, फिर मैं पूरी तरह से तैयार थी. इसके बाद मैरी कॉम ने उस टूर्नामेंट में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता.

मैरी कॉम ने कहा कि मैं कभी भी अपने प्रदर्शन से संतुष्ट नहीं होती हूं. मैं हमेशा एक नई रणनीति के तहत अपना वर्कआउट करती हूं. मुझमें बॉक्सिंग को लेकर पागलपन है लेकिन मैं आक्रामक नहीं हूं. मैं हमेशा अपने विरोधी खिलाड़ी के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानने की कोशिश करती हूं जिससे कि मैं उसे हरा सकूं. उन्होंने कहा कि मेरी सफलता में मेरे पति का काफी योगदान हैं और उनकी वजह से मैं अपनी तैयारी बड़े आराम से करने के साथ-साथ अपने लाइन से भटकती नहीं हूं.

एक बॉक्सर के तौर पर काफी सारी सफलताएं अर्जित कर चुकीं मैरी कॉम ने कहा कि दिल्ली में होने वाली विश्व चैंपियनशिप उनके लिए बड़ा टेस्ट होगा और यह भी कहा कि इस प्रतियोगिता में वो अपना बेस्ट देने की कोशिश करेंगी. उन्होंने कहा कि वो मेडल जीतेंने या ना जीतने के बारे में अभी कुछ नहीं कह सकती. एशियन गेम्स में भारतीय महिला बॉक्सर्स ने कोई भी मेडल नहीं जीता इसके बारे में उन्होंने कहा कि ये काफी दुखद था. महिला बॉक्सरों को काफी कुछ सीखने की जरूरत है साथ ही तकनीक के अलावा अपने दिमाग से भी काम लेने की आवश्यकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *