सर्वे: 2019 के लिए राहुल को मिले 11 प्रतिशत वोट, पीएम मोदी बने इतने लोगों की पसंद

जैसे-जैसे 2019 के लोकसभा चुनाव पास आ रहे हैं, वैसे-वैसे राजनीति भी गरमा रही है. सभी पार्टियां अपनी ओर से जीतने के लिए हर संभव कोशिश करने में जुटी हुई हैं. इसी बीच एक ऑनलाइन सर्वेक्षण किया गया, जिसमें 712 जिलों के 57 लाख लोगों में से लगभग 48 प्रतिशत ने देश को आगे ले जाने के लिए अपने नेता के तौर पर पीएम मोदी में भरोसा जताया है.

इस सर्वेक्षण को राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर से जुड़े एडवोकेसी ग्रुप इंडियन पॉलिटिकल ऐक्शन कमिटी (ए-पैक) ने कराया है. नेशनल एजेंडी फोरम के तहत कराए गए इस सर्वेक्षण में जवाब देने वाले लोगों को 923 नेताओं में से अपना एक चुनने का विकल्प दिया गया था. जिसमें पहले स्थान पर नरेंद्र मोदी और 11 प्रतिशत के साथ दूसरे स्थान पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी रहे.

वहीं 9.3 प्रतिशत वोट के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, 7 प्रतिशत वोट के साथ उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेख यादव, 4.2 प्रतिशत वोट के साथ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और 4.1 प्रतिशत वोट के साथ बसपा अध्यक्ष मायावती लोगों की पसंद रहीं. इस सर्वेक्षण में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी, एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कई अन्य राष्ट्रीय और क्षेत्रीय राजनीतिक चेहरों को जगह दी गई थी.

सर्वेक्षण में शामिल होने वाले लोगों ने महिला सशक्तिकरण, किसानों की समस्या, आर्थिक असमानता, छात्रों की समस्याओं, स्वास्थ्य सेवाओं की कमी, साम्प्रदायिक एकता को प्रमुख मुद्दा बताया. अभिनेता अक्षय कुमार, रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन और पत्रकार रवीश कुमार की पहचान ऐसे मशहूर व्यक्तियों के तौर पर की गई जिन्हें राजनीति में होना चाहिए. इस सर्वेक्षण को सोमवार को जारी किया गया है. यह सर्वेक्षण किशोर से जुड़ी सिटीजंस फॉर एकाउंटेबल गवर्नेंस की ओर से 2013 में कराए गए सर्वेक्षण के समान है, जिसमें मोदी को देश का सबसे पसंदीदा नेता बताया गया था.