अर्बन नक्सलियों पर स्वरा का बयान, लोगों को सोचने के लिए सजा नहीं दी जा सकती

बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर  सामाजिक मुद्दों पर बेबाक बातें करने के लिए जानी जाती हैं. वे पहले भी कई बार अपनी धाकड़ राय रखने के लिए सुर्खियों में रह चुकी हैं और एक बार फिर से उन्होंने अर्बन नक्सल के पक्ष में बात कही है जो किसी विषेश समुदाय की भावना को आहत कर सकती है.

स्वरा ने एक इंटरव्यू में कहा कि- ‘आप किसी को उसके करने पर सजा दे सकते हैं लेकिन किसी के केवल सोच लेने पर आप उसे सजा नहीं दे सकते हैं. अगर ऐसे सिर्फ सोचने के लिए लोगों को जेल में डाला जाएगा तब तो सारी जेलें ही भर जाएंगी.’

बता दें कि पिछले दिनों भीमा कोरेगांव हिंसा से जुड़े मामलों में देश के कई हिस्सों में छापेमारी के बाद वामपंथी विचारकों की गिरफ्तारी हुई थी. इस कार्रवाई में पांच सामाजिक कार्यकर्ताओं गौतम नवलखा, वरवर राव, सुधा भारद्वाज, अरुण फरेरा और वरनोन गोंजाल्विस को गिरफ्तार किया गया था.

इनकी गिरफ्तारी के बाद हंगामा मच गया और मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया. गिरफ्तार हुए पांच कार्यकर्ताओं में से तीन ऐसे हैं, जो पहले भी जेल जा चुके हैं. इनमें वरवर राव, अरुण फरेरा और वरनोन के नाम शामिल हैं.

बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने इस केस में पांच विचारकों की गिरफ्तारी पर 5 सितंबर तक रोक लगा दी. कोर्ट ने कहा है कि पांचों विचारकों को उनके घर में नजरबंद रखा जाए. इस मामले में अगली सुनवाई 6 सितंबर को होगी.