चंद पैसों का लालच देकर मासूम से झोलाछाप डॉक्टर ने की हैवानियत

fake-docter-rape-with-child

एक झोलाछाप डॉक्टर और उसके साथी ने रविवार रात सात साल की बच्ची के साथ अपनी क्लीनिक में सामूहिक दुष्कर्म किया। बच्ची को गंभीर हालात में सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लोगों ने एक आरोपी को पकड़कर उसकी धुनाई की, मगर वह लोगों को चकमा देकर फरार हो गया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

मुरादनगर की एक कॉलोनी में एक व्यक्ति अपनी पत्नी और तीन पुत्रियों के साथ रहता है। वह पत्नी के साथ कॉलोनी की ही एक पावरलूम फैक्टरी में काम करता है। वह रविवार को पत्नी के साथ अपनी बीमार बहन को देखने पिलखुवा गया था। इस दौरान घर पर तीनों बहनें अकेली थीं। रविवार रात को 8:30 बजे उसकी दूसरी सात साल की पुत्री जो पहली कक्षा की छात्रा है घर के बाहर खेल रही थी। इस दौरान एक युवक बच्ची को उठाकर पास की क्लीनिक में ले गया और शटर गिरा दिया।

आरोप है कि झोलछाप डॉक्टर और बच्ची को ले जाने वाले युवक ने बच्ची के साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। लहूलुहान हालात में बच्ची घर पहुंचते ही बेहोश हो गई। रात 10:30 बजे घर पहुंचे माता-पिता बच्ची को तुरंत एक निजी अस्पताल ले गए। वहां डॉक्टर ने बच्ची के साथ दुष्कर्म होने की बात परिजनों को बताई। इसके बाद परिजनों ने झोलछाप डॉक्टर शोएब और उसके साथी फारुख के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। थाना प्रभारी लक्षेंद्र सिंह ने बताया कि बच्ची के पिता की तहरीर पर झोलछाप डॉक्टर शोएब और फारुख के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। पुलिस की तीन टीमों का गठन किया गया है। तनाव को देखते हुए कॉलोनी में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

सात साल की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना के 16 घंटे बाद आरोपियों की पहचान हो सकी। क्लीनिक पर बैठे एक आरोपी को बच्ची ने पहचान लिया। इसके बाद लोगों ने आरोपी की पकड़कर धुनाई कर दी, लेकिन आरोपी उन्हें चकमा देकर फरार होने में कामयाब हो गया। इसके बाद लोगों ने आरोपी के मकान के बाहर जमकर हंगामा किया। दोनों आरोपी अभी भी फरार हैं। हालत गंभीर होने के चलते बच्ची कुछ बोल नहीं पा रही थी।

सोमवार दोपहर दो बजे जब बच्ची को होश आया तो परिजनों ने उससे घटना के बारे में पूछा। बच्ची ने बताया कि वह रविवार रात को अपने मकान के सामने खेल रही थी। इसी बीच फारुख अंकल आए और 20 रुपये देने की बात कहकर अपने साथ ले गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *