गुरुग्राम गोलीकांड: बार-बार बयान बदल रहा आरोपी गनर, धर्म परिवर्तन से जुड़ा है मामला

gurugram gunner killed aditional judge wife

गुरुग्राम में एडीशनल सेशन जज कृष्णकांत शर्मा की पत्नी और बेटे को गुरुग्राम में उन्हीं के गनर ने बीच चौराहे में गोली मार दी थी जिसके बाद अब गोली मारने वाले जज के गनर महिपाल से पूछताछ की जा रही है लेकिन हत्या का मकसद अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है. आपको बता दें कि वह बार-बार पुलिस के सामने अपना बयान बदल रहा है जिसकी वजह से हत्या की सही वजह अभी तक सामने नहीं आ सकी है.

ऐसा कहा जा रहा है कि ये मामला धर्म परिवर्तन से जुड़ा हुआ है और पुलिस को अब उसके ‘गुरु’ और ‘गुरु मां’ की भी तलाश में है, जिनसे महिपाल काफी प्रभावित था। जज की पत्नी की हत्या और बेटे को गोली मारने वाले इस कांड के पीछे कथित तौर पर छुट्टी और धर्म परिवर्तन की बात भी सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि महिपाल की शादीशुदा जिंदगी में भी सब ठीक नहीं चल रहा था।

बता दें कि यह घटना शनिवार की है जब इस गनर ने बीच रास्ते में कार रोककर जज की पत्नी और उसके बेटे को गोली मार दी थी जिसके बाद जज की पत्नी की मौके पर ही मौत हो गयी थी जबकि उनका बेटा ब्रेनडेड है। इस मामले में रविवार पूरे दिन चली पूछताछ के बाद पुलिस 32 साल के महिपाल की मानसिक हालत पर भी गौर कर रही है। पुलिस उसके कथित ‘गुरु’ और ‘गुरु मां’ की भी तलाश में है, जिनका उसपर काफी प्रभाव था। जांच कर रहे सीआईडी अधिकारियों को शक है कि उसका गुरु इंद्रराज सिंह हो सकता है, जिसे पुलिस ने एक बार पहले धर्म परिवर्तन करवाने की शिकायतों के बाद गिरफ्तार किया था।

पुलिस के मुताबिक 21 अगस्त को एक छापे में इंद्रजीत, एक सीआरपीएफ जवान के साथ कुल 8 लोगों को पकड़ा गया था। फिर महिपाल की दखल के बाद उन्हें छोड़ दिया गया था। इंद्रजीत सिंह पर इससे पहले भी 2015 में धर्म परिवर्तन के लिए लोगों को बहकाने के आरोप लगे थे और उसे गिरफ्तार भी किया गया था। तब भी महिपाल ने इंद्रजीत का साथ दिया, हालांकि, उनकी मां को यह पसंद नहीं था। इसपर महिपाल ने अपना घर छोड़कर गुरुग्राम में रहना शुरू कर दिया था।

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *