अब यात्रीगण चलती ट्रेन में एप से दर्ज करा सकेंगे एफआइआर

ट्रेन से यात्रा करने वालों के लिए है अच्छी खबर. जी हां अब ट्रेन से सफर के दौरान आपके साथ अगर कोई दुर्घटना होती है तो रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए अब आपको अगले स्टेशन का इंतजार नहीं करना पड़ेगा. बता दें कि इस संबंध में रेलवे ने यात्रियों के लिए एक मोबाइल एप योजना शुरू की है. इसके तहत यात्री ट्रेन में छेड़छाड़, चोरी और मारपीट की शिकायत दर्ज करा सकेंगे. शिकायत के बाद इसे ‘जीरो एफआइआर’ में तब्दील कर आरपीएफ तुरंत मामले की जांच शुरू कर देगी.

आरपीएफ तुरंत करेगी जांच

बता दें कि ‘जीरो एफआइआर’ के तहत कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत किसी भी पुलिस स्टेशन पर दर्ज करा सकता है. बाद में यह एफआइआर उस पुलिस स्टेशन को स्थानांतरित कर दी जाती है जहां पर यह दुर्घटना हुई है.

रेलवे सुरक्षा बल के महानिदेशक अरुण कुमार ने बताया कि मोबाइल एप से शिकायत दर्ज कराने का पायलट प्रोजेक्ट मध्य प्रदेश में पहले से चल रहा है. जल्द ही इसे पूरे देश में लागू किया जाएगा. उन्होंने बताया कि सबसे खास बात यह है कि इस एप से सिर्फ आरपीएफ को ही नहीं जीआरपी, टीटीई और ट्रेन कंडक्टर को भी जोड़ा गया है.

बता दें कि फिलहाल अगर आपके साथ ट्रेन में कोई वारदात हो जाती है तो टीटीई आपको एक शिकायत फार्म देता है. इसे भरकर अगले स्टेशन पर आरपीएफ अथवा जीआरपी को देना होता है. बाद में यह शिकायत स्वत: एफआइआर में बदल जाती है. हालांकि इस पूरी प्रक्रिया में जहां मामले की जांच में विलंब होता है, तो वहीं यात्री को तुरंत राहत नहीं मिलती है. इस एप के माध्यम से ऑफलाइन भी शिकायत दर्ज करा सकते हैं.

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *