तो शायद आयुषी न बनतीं भैय्यूजी महाराज की दूसरी पत्‍नी

bhauujiभैय्यूजी महाराज की दूसरी पत्नी आयुषी पिछले साल अप्रेल में अचानक चर्चा में आईं जब लोगों को अचानक पता चला कि भैय्यूजी महाराज दूसरी शादी कर रहे हैं. उनकी भावी पत्‍नी शिवपुरी के एक गांव की हैं और भैय्यूजी महाराज की बहन ने उन्‍हें पसंद किया है. आयुषी के बारे में केवल इतनी ही जानकारी लोगों को मिली थी और फिर एक साल बाद ही भैय्यूजी महाराज ने सुसाइड कर लिया और कारण बताया गया कि वो शादी के बाद से ही पारिवारिक झगडे के कारण काफी तनाव में थे. लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि भैय्यूजी महाराज से मिलने से पहले आयुषी की शादी होते-होते रह गई थी. आखिर किससे हो रही थी उनकी शादी और क्‍यों नहीं हो पाई शादी, उससे पहले जानते हैं आयुषी का बैकग्राउंड.

आयुषी, शिवपुरी जिले के खनियाधाना कस्‍बे की हैं, उनके पिता सरकारी टीचर हैं, घर में उनकी मां और एक भाई-एक बहन हैं. कुछ साल पहले आयुषी पढ़ाई के लिए इंदौर आ गई थीं. वो इंदौर के भंवरकुआं स्थित एक हॉस्टल में रहती थीं. उन्होंने इंदौर की देवी अहिल्या बाई यूनिवर्सिटी से डिजिटल मार्केटिंग में पीएचडी की है. पढ़ाई के दौरान वो पार्ट टाइम काम करती थीं और होम ट्‌यूटर नाम की एक संस्था के जरिए इंदौर के एक पंजाबी परिवार में 10-12 बच्चों को ट्‌यूशन पढ़ाती थीं. करीब एक से डेढ़ साल तक उन्होंने ये काम किया.

इस दौरान उनकी ग्वालियर में शादी तय हुई और लड़के वालों ने स्कॉर्पियो की मांग कर दी. जाहिर है, उनका परिवार ये मांग पूरी करने में अक्षम था, इसलिए शादी टूट गई. इस घटना के कुछ ही दिन बाद एक अन्य संस्था के जरिए उन्हें भैय्यूजी महाराज का सोशल मीडिया मैनेजमेंट देखने का काम मिला. करीब आठ-दस लोगों की टीम के साथ उन्होंने ये नई जॉब ज्वॉइन कर ली. हालांकि वो काम शुरू कर पातीं इसी दौरान भैय्यूजी महाराज पर अटैक हो गया और वो उसमें गंभीर रूप से घायल हो गए. आयुषी उनके घर जाती रहीं.

भैय्यूजी महाराज की मां और बहन मधुमती से उनकी नजदीकी बढ़ी. कुछ लोग कहते हैं कि भैय्यूजी महाराज को चोटें आई थीं और आयुषी उनकी मसाज करती थीं. इसी कारण जब भैय्यूजी महाराज के साथ शादी के बाद जब वो चर्चा में आईं तो यही कहा गया कि वो भैय्यूजी महाराज की फिजियोथैरेपिस्ट थीं. खैर, कुछ ही महीनों में उनकी भैय्यूजी से नजदीकी बढ़ी और जनवरी में सांगोला में उनकी रजिस्टर्ड मैरिज भैय्यूजी महाराज से हो गई.

इस शादी को लेकर यह बयान जारी हुआ था कि बहन मधुमती के भारी दबाव के चलते ये शादी हुई थी, क्योंकि उनकी मां और बेटी कुहू की देख-रेख के लिए घर में जिम्मेदार औरत की जरूरत थी. जिस वक्त आयुषी की शादी हुई, उनकी उम्र 25 साल थी. उम्र में अपने से इतने बड़े शख्स के साथ शादी के लिए वे कैसे राजी हुईं, ये तो वही बता सकती हैं.

हो सकता है कि भैय्यूजी महाराज के आभामंडल और उनके सेलिब्रिटी वाली जिंदगी से वे आकर्षित हो गई हों. खैर, इसे लेकर मधुमती कहती हैं कि ये बात सच है कि मैंने अपने भाई से दूसरी शादी करने के लिए कहा था, लेकिन वो आयुषी से ही शादी करें, ऐसा मैंने नहीं कहा था. बाद में अप्रैल में दुनिया को दिखाने के लिए दोबारा शादी हुई. कुछ ही समय बाद उनकी एक बेटी हुई, जिसका नाम धारा है. वो जन्म से विकृती का शिकार है और हाल ही में उसकी मुंबई में सर्जरी हुई है.

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *