हॉकिंस की आखिरी किताब में लिखी खौफनाक बात जिसने उड़ाई दुनिया की नींद

stephen-hawkings-final-theory-of-the-universe

खगोल विज्ञान से जुड़े दुनिया में जितने भी लोग मौजूद हैं उन सभी में स्टीफेन हॉकिंस का नाम सबसे ज्यादा मशहूर है, आपको बता दें कि आज से 7 महीने पहले 76 साल की उम्र में स्टीफेन हॉकिंस का निधन मार्च महीने में हो चुका है. स्टीफेन ने इस दुनिया के कई अनुलझे रहस्यों को उजागर किया था और दुनिया के वजूद को लेकर कई भविष्यवाणियां भी की थीं और अपने निधन से पहले वो एक किताब लिख रहे थे जिसमें उन्होंने एक ऐसी भविष्यवाणी की है जिसके बारे में जानकार शायद आपको भी डर लग जाएगा।

आपको बता दें कि स्टीफेन हॉकिंस की जिस किताब का जिक्र हम कर रहे हैं वो पूरी नहीं हो सकी है लेकिन उसमें भविष्य से जुड़ी एक ऐसी बात लिखी गयी है जिसके बारे में जानने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे। ”स्टीफन हॉकिन्स फाइनल फियर” नाम की बुक में उनके मौत से पहले डर के बारे में लिखा गया है। अपनी अंतिम भविष्यवाणी में दुनिया के सबसे प्रसिद्ध वैज्ञानिक स्टीफन ने डर जताया कि डीएनए इंजीनियरिंग और उससे छेड़छाड़ कर नई प्रजाति पैदा करने की कोशिश राक्षसों को पैदा कर देगी, जो मानवता को नष्ट कर सकती है।

मार्च में अपनी मौत से पहले हॉकिंस इस किताब को लिख रहे थे और यह उनकी आखिरी किताब भी थी, आपको बता दें कि उनकी ये बुक मंगलवार को पब्लिश हो रही है।

हॉकिंग ने लिखा, ”मुझे पूरा यकीन है कि इस शताब्दी के दौरान लोगों को पता चल जाएगा कि कैसे शरीर की कई विशेषताओं को और बढ़ाया जा सकेगा। डीएनए मॉडिफिकेशन के जरिए इंसानों में बहुत से बदलाव लाए जाएंगे जैसे याददाश्त बढ़ाना, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना, आक्रामकता या लड़ाकू बनाना जैसी कई चीजें की जा सकेंगी पर ये बेहद खतरनाक साबित होगा।

स्टीफन आगे लिखते हैं कि डीएनए इंजीनियरिंग के खतरे साइंटिस्ट जानते हैं। इसी वजह से इसके लिए कानून भी बनाए जाएंगे, लेकिन वो इस सबको रोकने में नाकाम रहेंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि खुद को सुपरह्यूमन बनाने का लोभ उन्हें आकर्षित करता रहेगा और कानून टूटते रहेंगे।

उन्होंने आगे लिखा है कि यह भी संभव है कि डीएनए में बदलाव लाकर हम मौत को कुछ समय के लिए टाल सकेंगे। इन सभी विशेषताओं वाले लोगों को सुपर ह्यूमन कहा जाने लगेगा। लेकिन जब इनकी तादाद बढ़ेगी, तब पृथ्वी पर संकट आएगा। इनका बाकी के मनुष्यों से तालमेल बिगड़ेगा और यहीं से विनाश की शुरुआत होगी। सुपरह्यूमन बाकी के मनुष्यों को बेकाम समझकर नष्ट करने लगेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *