दागी जनप्रतिनिधियों के इतने मामले कि गठित करना पडा विशेष कोर्ट!!!

supझारखंड के नेताओं भ्रष्‍टाचार के मामले में क्‍या कीर्तिमान रचे हैं, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सुप्रीम कोर्ट को विशेष कोर्ट गठित करने की योजना पर अपनी सह‍मति की मुहर लगानी पडी. झारखंड ऐसा राज्‍य है जहां एक मुख्यमंत्री सहित आधे दर्जन से अधिक मंत्री का पद संभाल चुके नेता जेल की सलाखों के पीछे जा चुके हैं. अब उच्चतम न्यायालय ने माननीयों पर दर्ज केसों की सुनवाई के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का निर्देश दिया है.

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने 1 नवम्बर, 2017 को अश्विनी कुमार उपाध्याय बनाम युनियन ऑफ इंडिया के मामले में केंद्र सरकार से पूछा था कि 2014 के चुनाव पूर्व दायर शपथ-पत्रों के मुताबिक जनप्रतिनिधियों पर जो 1581 मामले चल रहे थे, उनमें से कितने निष्पादित हो गए. कोर्ट ने ऐसे मामलों की जानकारी देने का आदेश केंद्र सरकार को दिया था. साथ ही शीर्ष कोर्ट ने इन मामलों के त्वरित निष्पादन हेतु विशेष कोर्ट के गठन पर केंद्र सरकार से प्रस्ताव मांगा था.

14 दिसम्बर, 2017 को दाखिल जवाब में केंद्र ने देश में 12 विशेष कोर्ट के गठन के लिए 7 करोड़ 80 लाख राशि आवंटित करने की जानकारी शीर्ष कोर्ट को दी थी. सुप्रीम कोर्ट ने इस योजना पर मुहर लगाते हुए कहा था कि 1 मार्च, 2018 से ये विशेष कोर्ट काम शुरू कर दें. केंद्रीय विधि मंत्रालय ने इस सम्बन्ध में सभी राज्य सरकारों को पत्र लिखकर निर्देश दिया कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के आलोक में राज्य सरकार फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन कर जनप्रतिनिधियों पर लंबित मामलों का त्वरित निष्पादन करें.

शीर्ष कोर्ट का आदेश मिलते ही झारखंड उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार जनरल ने 3 अक्टूबर, 2018 को राज्य में जनप्रतिनिधियों के खिलाफ लंबित मामलों की सूची सुप्रीम कोर्ट को भेज दी. इसके मुताबिक, राज्य में 43 जनप्रतिनिधियों पर ऐसे कुल 116 मामले थे, इनमें से 39 मामलों में आरोपी बनाए गए 7 जनप्रतिनिधि बरी हो गए, जबकि 6 जनप्रतिनिधियों को दोषी करार दिया गया था.


विचाराधीन मामलों में भाजपा सबसे आगे

नाम  केस   स्थिति

नारायण दास    02           1 में बरी, 1 में ट्रायल

राधा कृष्ण किशोर 01           सुनवाई जारी

नवीन जायसवाल 05           3 में बरी, 2 में ट्रायल

सरयू राय       01           सुनवाई जारी

साधु चरण महतो 03           सुनवाई जारी

गणेश गंझू      01           सुनवाई जारी

संजीव सिंह     02           सुनवाई जारी

लुईस मरांडी     01           सुनवाई जारी

राज पलिवार    04           2 में बरी, 2 में ट्रायल

रणधीर सिंह     02           1 में बरी, 1 में ट्रायल

ताला मरांडी     01           सुनवाई जारी

अशोक भगत    02           सुनवाई जारी


झामुमो के तीन, कांग्रेस के दो विधायकों के खिलाफ सुनवाई

नाम    पार्टी      ट्रायल

प्रदीप यादव     झाविमो 07

शशिभूषण समद झामुमो  01

हेमंत सोरेन     झामुमो  04

जगरनाथ महतो  झामुमो  01

देवेंद्र सिंह      कांग्रेस  03

इरफान अंसारी   कांग्रेस  04

शिवपूजन मेहता  बसपा   03

भानुप्रताप शाही  निर्दलीय 01

राजकुमार यादव  भाकपा मामले   01


Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *