जानिए बुलंदशहर हिंसा को लेकर योगी आदित्यनाथ ने ये क्या कह दिया

ये कोई मॉब लिंचिंग नहीं है. ये तो महज एक दर्घटना है. हालांकि, जांच के आदेश दे दिए गए हैं. अगर कोई भी दोषी पाया जाता है तो बख्सा नहीं जाएगा. ये किसी और का वक्तव्य नहीं है, बल्कि सूबे के मुखिया और वर्तमान में भाजपा के स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ का.

गौरतलब है कि वर्तमान में सूबे के एक जिला बुलंदशहर हिंसा की आग में झुलस रहा है. गत सोमवार को बुलंदशहर के गांव महाव में गौ के अवशेष मिलने से वहां का माहौल बेहद तनावपूर्ण व संवेदनशील हो गया था.

हालांकि, मौके की नजाकत को भापंते हुए पुलिस घटनास्थल पर पुहंच चुकी थी, लेकिन उपद्रवी इतने उग्र हो गए की वहां पर मुस्तैदी से तैनात सूबोध कुमार नामक एक पुलिसकर्मी को गोली मार दी. इतना ही नहीं, इस हिंसा के दौरान एक युवक को भी अपने जान से हाथ धोना पड़ा है.

बता दें कि योगी आदित्यनाथ का ये बयान दैनिक जागरण के एक कार्यक्रम के संबोधित करने के दौरान आया है. हलांकि, इस मामले की गहन तफ्तीश के लिए प्रदेश सरकार ने एसआटी का गठन कर दिया है. इससे पहले भी इस हिंसा की आग को कम करने के बाबत सूबे के मुखिया ने पीड़ित पक्ष के लोगों को मुआवजा समेत सूबोध के दोनों बेटों को नौकरी देने की घोषणा की है.

बता दें कि गत गुरुवार को सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित पक्ष के लोगों से मुलाकात की थी. साथ ही उन्हें ये आश्वासन दिया था कि इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उसे हम कड़ी से कड़ी सजा देंगे.

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *