गुनाहजरुर पढें

एमएलसी निवास हथियार लूट मामले में सुरक्षाकर्मी निलंबित

AK47-looted-from-sringar
Share Article

AK47-looted-from-sringar

मिलिटेंटों द्वारा जम्मू-कश्मीर के विधान पार्षद मुज़फ्फर पर्रे के सरकारी निवास से चार एके-47 ले उड़ने के बाद हिरासत में लिए गए चार पुलिस अफसरों को नौकरी से निलंबित कर दिया गया है. सूत्रों का कहना है कि गिफ्तार किये गए चारों एसओपी (स्पेशल पुलिस ऑफिसरस) में से एक ने पूछ ताछ के दौरान यह माना कि रविवार की सुबह मिलिटेंट, मुज़फ्फर परे के निवास में घुस गए और वहां से चार एके 47 राइफलें उडाले गए.

उक्त एस पी ओ ने यह भी बताया कि घटना के समय वो घर में अकेला था. उसके दो साथ ड्यूटी से पर नहीं आये थे, जबकि तीसरा किसी काम की वजह से घर से बहार गया हुआ था. सूत्रों का कहना है कि इन चारों पुलिस अफसरों को ड्यूटी में कोताही बरतने और ड्यूटी से उनुपस्थित रहने के इलज़ाम में नौकरी से निलंबित कर दिया गया है.

गौर तलब है कि एमएलसी मुज़फ्फर बरे के निवास से रिफ्लें लूटने की घटना रविवार को घटी थी. उसके बाद पुलिस ने श्रीनगर शहर में हाई अलर्ट जारी कर दिया है.

इससे पहले 28 सितम्बर को इसी इलाके में एक और पूर्व विधायक एजाज़ अहमद मीर के सरकारी निवास से एक साथ 7 राइफलें चोरी हो गईं थीं. यह माना जा रहा है कि यह काम मिलिटेंटों ने किया था. एजाज़ अहमद मीर के सरकारी निवास से हथियार चोरी के बाद पुलिस ने उन्हें भी हिरासत में लेकर पूछताछ की थी.

श्रीनगर से हथियार चोरी की इस घटना के बाद पुलिस पुलिस की मुस्तैदी पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है.

 

 

हारून रेशी Contributor|User role
Sorry! The Author has not filled his profile.
×
हारून रेशी Contributor|User role
Sorry! The Author has not filled his profile.
Share Article

Comment here