पेट की समस्‍यों से छुटकारा पाने के लिए इन चीजों को प्रतिदिन खाएं

rules for healthy stomachहमारी गलत आदतों और खान पान की गड़बड़ी की वजह से गैस बनना, कब्‍ज, ऐसिडिटी, पेट दर्द, मुंह के छाले जैसी ज्‍यादातर समस्‍याएं होती हैं. सबसे बड़ी बात है कि शरीर की बाकी समस्‍याएं और बीमारियां भी पेट से ही जुड़ी होती है. अगर आपका पेट स्‍वस्‍थ है तो आपका स्‍वास्‍थ्‍य भी अच्‍छा रहेगा. आप अगर भोजन को ठीक से पता नहीं पाते हैं या बार बार पेट में गैस बनती है तो हो जाएं सावधान. अगर पेट को स्‍वस्‍थ रखना चाहते हैं तो प्रतिदिन अपनी डायट में इन चीजों को शामिल करें.

प्रतिदिन सुबह सु्बह गुनगुना पानी पिएं : सुबह उठकर रोज एक गिलास गुनगुना पानी पीना चाहिए। इससे पेट साफ रहता है और गैस नहीं बनती है. इसके अलावा नाश्ता और खाने के बीच बहुत ज्यादा गैप भी नहीं रखना चाहिए. अगर आपको गैस की समस्या रहती है तो टाइट कपड़े पहनने से बचें.

इन्‍हें भी जरूर पढ़ें : अगर आपको भी है एंटीबायोटिक की आदत तो ये खबर जरूर पढ़ें

हरी सब्जियां जरूर खाएं : पेट को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो अपने खाने में लौकी, फलियां, कद्दू, गोभी और गाजर जैसी सब्जियों को शामिल करें. तरबूज का रस भी ऐसिडिटी दूर करता है और पाचन तंत्र को सही रखकर आपको स्वस्थ बनाए रखता है.

खाना चबाकर खाएं : पाचन का मतलब होता है खाने में मौजूद कार्बोहाइड्रेट यानी स्टार्च और शुगर का पाचन जिसकी शुरुआत मुंह से ही होती है. मुंह में मौजूद सलाइवा और एंजाइम खाने को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ते हैं इसलिए भोजन को हमेशा चबा-चबाकर खाना चाहिए. इससे पाचन आसानी से हो जाता है.

इन्‍हें भी जरूर पढ़ें : डिप्रेशन से उबरना है तो रसोई में रखे इन चीजों को खाएं

लहसुसन जरूर खाएं : दिनभर में पानी की मात्रा ज्यादा से ज्यादा लें और फाइबर युक्त चीजों को खाने में शामिल करें. खाने में 2 कलियां लहसुन प्रतिदिन जरूर खाएं और फलों में केला, अमरूद और पपीता खाएं। धूम्रपान न करें इससे पाचन तंत्र में समस्या आ सकती है.

मौसमी फल खाएं : रोज अपनी डायट में मौसमी फल और सब्जियों को शामिल करें. साथ ही साथ कोशिश करें कि ऐसे फल और सब्जियां खाएं जिसमें फाइबर की मात्रा अधिक हो. फैट वाला खाना और ज्यादा तला-भुना और मसालेदार खाना खाने से बचें.

इन्‍हें भी जरूर पढ़ें : नाभी में तेल डालने से होता है इन तमाम बीमारियों का इलाज

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *