जरुर पढेंमोबाइल & टेक

युवक ने जेब में रखा था iPhone का ये मॉडल तभी लग गयी आग और फिर

i-phone-caught-fire-in-mens-pocket
Share Article

i-phone-caught-fire-in-mens-pocket

दुनियाभर में अपने उत्पादों गुणवत्ता के लिए ख्यात मोबाइल निर्माता कंपनी एप्पल के खिलाफ एक अमेरिकी युवक ने मामला दर्ज कराया है। ओहियो के इस युवक की जेब में रखे उसके आईफोन 10एस मैक्स में अचानक आग लगी और विस्फोट हुआ।

कोलंबस के ओहियो में रहने वाले जॉश हिलार्ड ने शिकायत की है कि उनके तीन हफ्ते पुराने आईफोन 10 एस मैक्स में अचानक आग लग गई। फोन उनकी जेब में था और उन्होंने अचानक गर्मी महसूस की। साथ ही कुछ अजीब से गंध ने भी उनका ध्यान आकर्षित किया। इस दौरान जॉश एक होटल में अपने कुछ साथियों के साथ मौजूद थे। देखते ही देखते उनके फोन से हरे और पीले रंग का धुआं निकलना शुरू हो गया। बाद में फोन में धमाका हुआ हालांकि हिलार्ड को अधिक चोट नहीं आई और वक्त रहते आग पर काबू पा लिया गया।

साथी ने बुझाई आग

हिलार्ड ने कहा कि हादसे का आभास होते ही उन्हें अपनी पैंट उतारने के लिए कमरे से चेंज रूप की ओर भागना पड़ा, क्यूंकि उस वक्त उनके साथ एक महिला भी मौजूद थी। हिलार्ड जबतक अपनी पैंट उतार पाते तबतक जेब में रखे आईफोन में धमाका हो गया। उनकी कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट ने अग्निशमन उपकरण का इस्तेमाल कर आग बुझाई। आग के बुझने के बाद उन्होंने देखा कि उनके पैंट में एक छेद हो गया है। साथ ही जिस हिस्से में जेब आती थी उनके शरीर के उस हिस्से में जलन महसूस हुई।

एप्पल ने नए फोन की पेशकश की

हिलार्ड ने इस मामले की सूचन एप्पल को दी। कंपनी के प्रतिनिधि ने उन्हें एक नया आईफोन देने की पेशकश भी कि। लेकिन उन्होंने कंपनी के खिलाफ एक कानूनी वाद दायर करने का मन बनाया। दरअसल हिलार्ड एप्पल स्टोर की ग्राहक सेवा इकाई से मिले जवाबों से असंतुष्ट थे। हिलार्ड ने बताया कि उनके पास स्टोर पर कोई विकल्प नहीं था। उनसे कहा गया कि आग लगे फोन को मुझे स्टोर पर छोड़ना होगा तभी उनकी कुछ मदद की जा सकती है। हिलार्ड ने जब अपने कपड़ों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए कहा तो उन्हें जवाब मिला कि इसके लिए कोई वादा नहीं किया जा सकता। ग्राहक सेवा के जवाबों से असंतुष्ट हिलार्ड अपना जला हुआ फोन लेकर वापस घर लौट आए।

Sorry! The Author has not filled his profile.
×
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here