फिल्म

नसीरुद्दीन शाह के बयानों पर इमरान हाशमी ने कही बड़ी बात

imran-hashmi
Share Article

imran-hashmi

बॉलीवुड एक्टर नसीरुद्दीन शाह अपने बयान की वजह से पिछले काफी समय से चर्चा में बने हुए हैं. शाह ने हाल ही में भीड़ द्वारा की गई हिंसा का परोक्ष हवाला देते हुए कहा था कि एक गाय की मौत को एक पुलिस अधिकारी की हत्या से ज्यादा तवज्जो दी जा रही है. इसके बाद उन्होंने कहा- ‘मेरे बच्चे खुद को क्या बताएंगे क्योंकि उन्हें तो धर्म की तालीम ही नहीं दी. मुझे इस माहौल से डर नहीं लगता बल्कि गुस्सा आता है.

उनके इस बयान से पैदा हुआ विवाद अभी थमा ही नहीं था कि अब एमनेस्टी इंडिया की तरफ से जारी एक वीडियो में बाद नया विवाद खड़ा होता दिखाई दे रहा है. वीडियो में नसीरुद्दीन शाह दावा कर रहे हैं कि भारत में धर्म के नाम पर नफरत की दीवार खड़ी की जा रही है और इस ‘अन्याय’ के खिलाफ आवाज उठाने वाले लोगों को सजा दी जा रही है.

नसीरुद्दीन शाह के इन बयानों के बाद अब एक्टर इमरान हाशमी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. एनआई से बातचीत में इमरान हाशमी ने कहा, ‘अभी मैं जो महसूस कर रहा हूं वह कह रहा हूं. मेरा मानना है कि हमारे देश में हर किसी को अपने विचार रखने की आजादी है. मुझे जारी विवाद के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है, इसलिए मैं इस मुद्दे पर ज्यादा कुछ नहीं कह सकता. इन दिनों इमरान अपनी अपकमिंग फिल्म चीट इंडिया के प्रमोशन में बिजी हैं.

बता दें 2.13 मिनट के एकजुटता वीडियो में शाह ने कहा है कि जिन लोगों ने मानवाधिकारों की मांग की उन्हें जेल में डाला जा रहा है. हमारा देश कहां जा रहा है? क्या हमने ऐसे देश का सपना देखा था जहां असंतोष की कोई जगह नहीं है, जहां केवल अमीर और शक्तिशाली लोगों को सुना जाता है और जहां गरीबों तथा सबसे कमजोर लोगों को दबाया जाता है? जहां कभी कानून था लेकिन अब बस अंधकार है.

शाह के बयानों के बाद राजनीतिक जगत से उनके खिलाफ काफी आक्रोश देखने को मिल रहा है. कोई उन्हें देश छोड़ने की बात कर रहा है तो कोई उनसे माफी मांगने की बात कर रहा है.

 

 

Sorry! The Author has not filled his profile.
×
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here