जरुर पढेंट्रेंडिंग न्यूज़

10 साल से बेहोश महिला बनी मां, हॉस्पिटल स्टाफ पर है शक

unconcious-lady-deliver-a-baby
Share Article

unconcious-lady-deliver-a-baby

फिनिक्स के एक निजी अस्पताल में 10 साल से अधिक समय से अर्द्ध बेहोशी की हालत में पड़ी महिला के हाल ही में जन्में बच्चे के पिता का पता लगाने के लिए स्वास्थ्य केंद्र के सभी पुरुष कर्मियों का डीएनए टेस्ट होगा। पुलिस ने इस मामले में सर्च वारंट जारी कर दिए हैं।

इस शर्मनाक घटना के बाद स्वास्थ्य केंद्र के सीईओ ने पहले ही इस्तीफा दे दिया है। हासिएंडा स्वास्थ्य केंद्र ने कहा कि वह कर्मचारियों का डीएनए कराने की बात का स्वागत करता है। कंपनी ने बयान में कहा, ‘हम इस बेहद संगीन एवं अप्रत्याशित स्थित से जुड़े सभी तथ्यों को उजागर करने के लिए फिनिक्स पुलिस और अन्य जांच एजेंसियों का सहयोग करना जारी रखेंगे।

स्थानीय न्यूज वेबसाइट एजफैमिली डॉट कॉम ने सबसे पहले जानकारी दी थी कि 10 साल से अधिक अर्द्ध बेहोशी की हालत में पड़ी महिला ने 29 दिसंबर को एक बच्चे को जन्म दिया है। उसकी पहचान उजागर नहीं की गई। इस बात का भी कुछ पता नहीं चल पाया है कि उसका कोई परिवार या संरक्षक भी है या नहीं। बोर्ड के सदस्य गैरी ओरमैन ने कहा था कि स्वास्थ्य केंद्र इस भयावह स्थिति के लिए पूरी जवाबदेही तय करेगा।

ओरमैन ने कहा, ‘हम अपने प्रत्येक मरीज और कर्मचारी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे।’ प्रवक्ता डेविड लेबोविट्ज ने कहा कि बोर्ड के सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से इस निर्णय को स्वीकार किया। राज्य के गवर्नर कार्यालय ने इस स्थिति को बेहद परेशान करने वाला बताया है।

Sorry! The Author has not filled his profile.
×
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here