जनता के सवालों पर बहस की उम्मीद करना बेमानी है

कर्नाटक चुनाव बीत गया. कर्नाटक का कोई भी असल मुद्दा किसी भी भाषण में न भारतीय जनता पार्टी ने उठाया

Read more

कर्नाटक चुनाव राष्ट्रव्यापी महत्व का चुनाव हो गया है

कर्नाटक का चुनाव भी देश के लिए एक नई सीख लेकर आने वाला है. लगभग सभी लोग मान रहे थे

Read more

सामाजिक विकृति का समाधान समाज को ही देना है

हमारे देश में सामान्य आदमी की संवेदना मरी हुई प्रतीत हो रही है, खासकर तब, जब वो खुद को धर्म

Read more

सपा के सामने सवाल

उत्तर प्रदेश में एक बड़ा राजनीतिक परिवर्तन होने वाला है. इस परिवर्तन के तीन हिस्से हैं. हम पहले हिस्से से

Read more

अन्ना हजारे के अनशन की अंतर्कथा

देवेंद्र फड़णवीस ने अन्ना को तैयार किया कि अन्ना की मांगों को लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय के राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह

Read more

जनता से जुड़े सवालों पर आंदोलन से जनता क्यों ग़ायब है

अन्ना की एक व्यक्तिगत कमजोरी जरूर है कि अगर उनके सामने भीड़ नहीं होती है, तो वो बहुत ज्यादा जोश

Read more

भावनात्मक मुद्दों पर लड़ा जाएगा 2019 का चुनाव

अब इसे अचम्भा नहीं मानना चाहिए कि जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं, खासकर लोकसभा चुनाव, वैसे-वैसे पूरा चुनाव राम

Read more

एक नए जातीय संघर्ष का संकट सामने खड़ा है

देश में एक बहुत ही दुखद स्थिति पैदा की जा रही है. इसे पैदा करने में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के

Read more

मीडिया ने अपनी पत्रकारीय ज़िम्मेदारी खो दी है

श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई में अंतिम दर्शन के लिए उनके घर के पास एक स्पोट्‌र्स क्लब में रखा गया

Read more

क्या सरकार शांतिपूर्ण किसान आन्दोलन को आन्दोलन नहीं मानती

22 और 23 फरवरी को देश के अधिकतर हिस्सों में किसानों ने शांतिपूर्ण आंदोलन किया. इन शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे

Read more

राजस्थान के संकेतों को समझने की ज़रूरत है

एक बहुत अजीब सवाल दिमाग में बार-बार कौंध रहा है.  क्या राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों की हार

Read more

अन्ना आन्दोलन का स्वागत करना चाहिए

अन्ना हजारे ने घोषणा की है कि वे दिल्ली में 23 मार्च से आंदोलन करेंगे. उनके सभी प्रश्न पुराने हैं.

Read more

हम वर्चुअल वर्ल्ड के चौतरफा हमलों से घिरे हैं

मैं आपकी जिन्दगी से जुड़ी एक बात करने जा रहा हूं. आप स्मार्ट फोन का इस्तेमाल जरूर करते होंगे. पिछले

Read more

प्रधानमंत्री की 2019 लोकसभा चुनाव की रणनीति

दावोस में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जो भाषण दिया, उसकी चारों ओर प्रशंसा हो रही है. लोग बस इतना कह

Read more

कितने समझदार हैं राहुल गांधी

राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष बन गए हैं. इस घटना से उनकी मां श्रीमती सोनिया गांधी सबसे ज्यादा खुश हैं.

Read more

कांग्रेस विपक्ष की एकता को महत्व नहीं देती

देश के इतिहास में दो बार ऐसे मौके आए, जब देश के दो बड़े नेताओं ने विपक्ष की गिरती हालत

Read more

भीमा-कोरेगांव आंदोलन दलित पुनर्जागरण की कहानी है

महाराष्ट्र में भीमा कोरेगांव में हुई हिंसा की वारदात ने व्यापक पैमाने पर पांव पसारने शुरू कर दिए हैं. दरअसल

Read more

क्या होगा जब देश के किसान और नौजवान सच समझ जाएंगे

कुछ चीजें कभी सामने नहीं आ पातीं और उन्हें जान-बूझकर सामने न लाने की कोशिश होती है. अब मैं प्रधानमंत्री

Read more

भाजपा और कांग्रेस के लिए गुजरात चुनाव के सबक़

गुजरात के चुनाव परिणामों ने सभी को सीख दी. भारतीय जनता पार्टी खुश है कि उसकी सरकार बन गई और

Read more

राहुल गांधी बड़ी रेखा खींचने का अभ्यास करें

गुजरात चुनाव ने बहुत सी पुरानी परंपराएं समाप्त कर दीं और नई परंपराएं डाल दीं. अब भविष्य में यही परंपराएं

Read more

क्या प्रियंका गांधी किसी मानसिक उलझन में हैं!  

राहुल गांधी के सामने एक चुनौती खुद उनके परिवार को लेकर है. जैसे, कांग्रेस प्रवक्ता बने शहजाद पूनावाला पहला नाम

Read more

राहुल गांधी के सामने सवाल

अब जब राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष हो गए हैं, तो वो अपनी बहन प्रियंका गांधी का राजनीति में कैसा, कैसे

Read more

सेनाभक्त सरकार ने शहीदों के बच्चों की पढ़ाई का पैसा काट लिया

कभी कभी दिल को दुखाने वाली जानकारियां आ जाती हैं. वो जानकारियां अगर सरकारी कारनामे की वजह से हों, तो

Read more

चुनाव से ज्यादा महत्वपूर्ण है लोकतंत्र

सर्वशक्तिशाली लोग और सबसे मजबूत पार्टी डर जाए, तो उसका कारण जानने की इच्छा होती है. हमारे लिए सवाल है

Read more

हार्दिक की अनुभवहीनता, कांग्रेस का अतिआत्मविश्वास और भाजपा की चिंता

गुजरात में चुनाव अभियान जोरों पर है. यहां घटनाक्रम रोज तेजी से बदल रहे हैं. भाजपा और कांग्रेस एक दूसरे

Read more

गुजरात चुनाव में प्रधानमंत्री की तीस सभाओं के मायने क्या हैं

गुजरात चुनाव लोगों की ज़ुबान पर है. कांग्रेस ने वहां पूरी ताकत झोंक दी है और भाजपा भी अपनी संपूर्ण

Read more

किसान और भूख की बात करना ग़द्दारी नहीं है

आपको 1975 की एक प्रमुख उक्ति याद दिलाना चाहता हूं. देश में आपातकाल लग चुका था. कांग्रेस के अध्यक्ष देवकांत

Read more

सिस्टम में जनता के द़खल देने का समय आ गया है

देश में सोची-समझी कुछ तकनीक अपनाई जा रही है. यह है लोगों के दिमाग को एक धारा में सोचने की

Read more

गुजरात चुनाव से जनता के सवाल ग़ायब हैं

गुजरात चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो गई है और ओपिनियन पोल आने लगे. ओपिनियन पोल के ऊपर मीडिया में खासकर

Read more