तो क्या सचमुच बंट जाएगा जम्मू-कश्मीर तीन हिस्सों में?

तो क्या 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले जम्मू-कश्मीर को धार्मिक और क्षेत्रीय आधार पर तीन भागों में बांटने की

Read more

जम्मू-कश्मीरः पंचायत और निकाय चुनाव एक नई चुनौती

जम्मू-कश्मीर में प्रमुख क्षेत्रीय राजनीतिक दलों नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) और पिपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की तरफ से पंचायत और निकाय

Read more

कश्मीर : क्या राज्यपाल एक प्रभावशाली वार्ताकार भी होंगे

30 अगस्त को सोशल मीडिया पर एक वीडियो क्लिप वायरल हो गई. जिसमें जम्मू कश्मीर में भाजपा के राज्य अध्यक्ष

Read more

कश्मीरियों का दिल और भरोसा जीतने वाले वाजपेयी

केवल कश्मीर ही नहीं, पाकिस्तान के मामले में भी वाजपेयी ने कई ठोस कदम उठाए थे. उन्होंने श्रीनगर में पाकिस्तान

Read more

35-ए खत्म करना दिल्ली की अंतिम और भयानक ग़लती साबित होगी

कश्मीर घाटी में एक बार फिर तमाम राजनीतिक और सामाजिक हलकों में आशंका है कि सर्वोच्च न्यायालय भारतीय संविधान की

Read more

बाग़ियों का आरोप : ‘परिवार डेमोक्रेटिक पार्टी’ में बदल चुकी है पीडीपी, क्या पार्टी को टूट से बचा पाएंगी महबूबा

अंदरूनी कलह से दोचार हो रही पीडीपी को टूट-फूट से बचाने के लिए महबूबा मुफ्ती सक्रिय हो चुकी हैं. सूत्रों

Read more

जम्मू-कश्मीर में भाजपा ने किया एक तीर से दो शिकार, नई सरकार की संभावना

पीडीपी को मझधार में छोड़कर अपनी पार्टी के हितों के लिए भाजपा ने ये सारा गेम प्लान तैयार किया था.

Read more

कश्मीर: ताकत नहीं सियासी पहल चाहिए

जम्मू-कश्मीर समस्या को ले कर कुछ रक्षा विशेषज्ञों का कहना है कि सेना और अन्य सिक्योरिटी फोर्सेज तीस वर्ष के

Read more

संघर्ष-विराम का सकारात्मक असर, राजनाथ सिंह के रुख से कश्मीरियों में जगी उम्मीद

राजनाथ सिंह ने एक बार फिर हुर्रियत नेताओं के साथ बातचीत का इशारा दिया. उन्होंने श्रीनगर में प्रेस को संबोधित

Read more

पीडीपी-भाजपा सरकार के तीन साल, गठबंधन से पीडीपी को नुक़सान

जम्मू कश्मीर में पीडीपी-भाजपा गठबंधन सरकार के तीन साल पूरे हो गए. जम्मू-कश्मीर में विधान सभा का कार्यकाल 6 वर्ष

Read more

कश्मीर समस्या : वाजपेयी की नीतियों से ही खुलेगा अमन का रास्ता

18 जनवरी को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सात महीने की जांच के बाद टेरर फंडिंग केस में दिल्ली के

Read more

कश्मीर की ज़मीनी स्थिति ज्यों-की-त्यों : गोली से नहीं बोली से बदलेंगे हालात

जम्मू-कश्मीर में सेना और दूसरी सुरक्षा एजेंसियां 30 वर्षों से लगातार मिलिटेंसी समाप्त करने की नाकाम कोशिश कर रही हैं.

Read more

फारूक अब्दुल्ला ऐसे बयान क्यों देते हैं?

जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव दो साल बाद होने हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि राज्य की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी

Read more