महाराष्‍ट्रः चंदे के फंदे में मंत्री

पावर और पैसा आज हर महत्वाकांक्षी व्यक्ति की चाहत है. जिसके पास पावर है, उसके पास पैसे वाले स्वयं चले आते हैं. व्यवसायी, ठेकेदार एवं उद्योगपति पावर के चारों ओर सौर मंडल के ग्रहों की तरह चक्कर लगाते नज़र आते हैं. उनकी निकटता पाकर मंत्री-संतरी भी उनसे अपना उल्लू सीधा करने में गुरेज़ नहीं करते.

Read more

महाराष्‍ट्रः बेलगांव पर सियासत गर्म

कर्नाटक सरकार द्वारा मराठी बाहुल्य सीमावर्ती बेलगांव (बेलगाम) की महानगरपालिका बर्खास्त किए जाने को लेकर महाराष्ट्र के सियासी गलियारे में अचानक गर्मी आ गई है. सभी राजनीतिक दलों ने एक स्वर में इस निर्णय की आलोचना करते हुए कर्नाटक सरकार पर मराठीभाषियों का उत्पीड़न करने का आरोप लगाया. यह मुद्दा महाराष्ट्र विधानमंडल के शीतकालीन सत्र में भी उठा.

Read more

महाराष्‍ट्रः राजनाथ का विदर्भ दौरा सवालों के घेरे में

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह की विदर्भ यात्रा पर अब सवाल उठाए जा रहे हैं. उनकी इस यात्रा को कुछ संगठन व्यक्तिगत यात्रा तक क़रार दे रहे हैं और पार्टी की नीति पर भी प्रश्नचिन्ह लग रहे हैं. भाजपा नेताओं की औद्योगिक इकाइयों द्वारा भी किसानों की ज़मीन हड़पने का आरोप लगाया जा रहा है. इससे राजनाथ की विदर्भ यात्रा विफल होती लग रही है.

Read more

महाराष्‍ट्रः राजनीति का व्‍याकरण बदल रहा है

राज्य में इन दिनों शिव शक्ति-भीम शक्ति का शोर मचा हुआ है. इसके साथ ही एक और मुद्दा जुड़ गया है दादर स्टेशन के नामांतरण का. अब दादर स्टेशन का नाम चैत्य भूमि रखा जाए या डॉ. भीमराव अंबेडकर के नाम पर, इस पर कोई विवाद नहीं, लेकिन इसी बहाने राजनीतिक अस्त्र-शस्त्रों का जमकर इस्तेमाल किया जा रहा है. सभी दादर स्टेशन के नाम परिवर्तन में अपनी भूमिका रेखांकित और दूसरे की खारिज करने में लगे हैं.

Read more

महाराष्‍ट्रः शीतयुध्‍द थमने के आसार नहीं

राज्य के वर्तमान परिदृश्यों को देखकर बिल्लियों से जुड़े दो किस्से याद आते हैं. पहला किस्सा है दो बिल्लियों का जो रोटी के लिए आपस में झगड़ा कर रही थीं. जब दोनों में सहमति नहीं बनी तो वे पड़ोसी बिल्ले के पास इस अपेक्षा के साथ गईं कि वह दोनों के बीच रोटी बराबर-बराबर बांट देगा, लेकिन बिल्ला बड़ा चालाक था. उसने रोटी को बराबर होने नहीं दिया और जब वह टुकड़े-टुकड़े करके पूरी रोटी खा गया, तब बिल्लियों की समझ में आया कि वे चालाक बिल्ले के चक्कर में फंसकर अपनी रोटी गंवा चुकी हैं.

Read more

सहकारी बैंक प्रकरणः अपने ही चक्रव्‍यूह में फंसी राकापा

रिज़र्व बैंक ने महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक के संचालक मंडल को बर्खास्त कर प्रशासक नियुक्त करने का आदेश क्या दिया, राज्य की राजनीति में भूचाल आ गया. राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेताओं का एकाएक रक्तचाप बढ़ गया और दम फूलने लगा. राकांपा में हड़बड़ाहट सा़फ देखी गई और वह बचाव की मुद्रा में खड़ी नज़र आई.

Read more