क्या अटल जी के आचरण का अनुकरण करेंगे मोदी जी?

शेख चिल्ली की बातें भारत जैसे देश में नहीं चलती हैं. किसान जानता है कि मेरी इतनी जमीन है, न

Read more

भारत: लोकतंत्र की आशा का वैश्विक अग्रदूत

मेरी राय में भारत को लोकतंत्र के वैश्विक अग्रदूत की भूमिका में आने के लिए तीन महत्वपूर्ण सुधार बिन्दुओं पर

Read more

इमरान खान और भारत-पाक शांति प्रक्रिया

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के महानायक इमरान खान द्वारा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का पदभार संभालने के बाद क्या भारत और पाकिस्तान

Read more

इस देश की आशा थे अटल बिहारी वाजपेयी

अटल जी पिछले कई वर्षों से स्थितप्रज्ञ की अवस्था में थे. वे न बोलते थे न सुनते थे, बस उन्होंने

Read more

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री तक सीमित नहीं है करुणानिधि की शख्सियत

महाराष्ट्र में मराठा समुदाय की गिनती उंची जाति में होती है. गुजरात के पाटिदारों की तरह अब वो भी पुरजोर

Read more

जर्नलिज्म स्कूल बचाएंगे प्रेस की आज़ादी!

डोनाल्ड ट्रम्प ने लम्बे समय से जारी न्यूज मीडिया पर अपने हमलों की तिव्रता बढ़ा दी है. पिछले दिनों रिपब्लिकन

Read more

हम एक मरते हुए समाज में जी रहे हैं

हमारे देश में कुछ स्थितियां ऐसी बन जाती हैं जिनके पीछे कोई तर्क नहीं होता, लेकिन स्थितियां बन जाती हैं.

Read more

यही है देश के विकास की असली तस्वीर

एक तरफ़ समृद्धि और वैभव की ऊंची चोटियां और उसके नीचे अभाव और दरिद्रता की गहरी खाई, यह पूंजीवादी विकास

Read more

मोदी जी ने सबसे ज्यादा भाजपा और आरएसएस का नुक़सान किया है

अब भी जिन्हें लगता है कि भारत में लोकतंत्र अपना काम ठीक से कर रहा हैं, तो मुझे अफसोस है

Read more

देश किसी एक व्यक्ति से न शुरू होता है न खत्म होता है

सेना जहां हस्तक्षेप करती है, वहां जम्हूरियत का कोई मतलब नहीं रह जाता. आजादी के सिर्फ11 साल बाद, पाकिस्तान में

Read more

श्री महावीर प्रसाद आर. मोरारका जन्म शताब्दी वर्ष, उद्योगपति जिन्होंने ट्रस्टीशिप लागू किया

अगर कोई व्यक्ति 1961 में किताब लिखे. किताब भी समाजवाद एक अध्ययन का निष्कर्ष हो और वह व्यक्ति जिद करे

Read more

भाजपा के सामने विपक्ष नहीं जनता है

2019 आम चुनाव का महाअभियान प्रधानमंत्री मोदी ने शुरू कर दिया है. सारे देश में वो और अमित शाह घूमना

Read more

हिन्दी की चिंता दुनिया को है लेकिन हम ख़ुद बेख़बर हैं

पिछले दिनों जब पूरा यूरोप फुटबॉल वर्ल्ड कप के बुखार में था, उस दौरान लंदन में था. लंदन की हर

Read more

आर्टिकल 370 की वजह से ही कश्मीर हमारा है

कश्मीर फिर चर्चा में है. वहां विधानसभा चुनाव में खंडित जनादेश आया था. जनादेश कई बार ऐसा होता है कि

Read more

विपक्ष अपनी ग़लतियों से सीखने के लिए तैयार नहीं है

मुझे नहीं लगता कि विरोधी पक्ष में रहने वाले कोई सीख ले पाएंगे और यही प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह

Read more

सरकारें बचकानी हरकतों से नहीं चलती

2019  में या तो मोदी फिर प्रधानमंत्री बनेंगे या नहीं बनेंगे. दोनों स्थितियों के लिए जो मैं कहने जा रहा

Read more

शुजात बु़खारी सच और साहस भरी पत्रकारिता की मशाल थे

किसी की मौत के बाद, उसकी पहचान उसके लिखे हुए और बोले हुए शब्द ही होते है, जो हमेशा हमारे

Read more

बंदूक़ ही समाधान है तो राजनेताओं की जरूरत क्या है

अचानक कश्मीर में भाजपा ने सरकार से अपना सपोर्ट वापस ले लिया. कश्मीर की सरकार गिर गई और वहां गवर्नर

Read more

भैय्यू जी महाराज एक महान संत, एक महान समाजसेवी थे

भैय्यू जी महाराज की आत्महत्या इस देश के उन लोगों की कहानी है, जो बड़े लोग होते हैं लेकिन अपने

Read more

शुजात बुखारी का आखिरी कॉलम, फेक न्यू़ज पत्रकारिता की बड़ी चुनौती

आज पत्रकारिता के समक्ष कई प्रकार की चुनौतियां है. ये चुनौतियां सामान्य रूप से तकनीकी विकास के कारण उत्पन्न हो

Read more

देश को बचाने की ज़रूरत है

कोई नई सरकार जब सत्ता में आती है तो उसकी नीतियां सबसे पहले चुनावी घोषणा पत्र में और सरकार बनने

Read more

देशभक्ति के नाम पर सेना को दरिद्र बना रहे हैं

देश की सेना क्या वाकई सैन्य साजो-सामान और हथियारों के संकट से जूझ रही है. सोशल मीडिया पर इन दिनों

Read more

कांग्रेस से भी आगे निकल गई भाजपा

एक चुनाव जीतते ही भाजपा सोचती है कि पता नहीं उसके हाथ क्या लग गया है. अगर इसका 10 फीसदी

Read more

उपचुनाव परिणाम: जनता की इस चेतावनी को समझिए

लोकसभा और विधानसभा उपचुनाव के परिणाम सामने आ गए हैं. अभी पिछले हफ्ते हमने चौथी दुनिया की लीड स्टोरी की

Read more

कश्मीर को राजनीतिक समस्या के रूप में देखिए

प्रधानमंत्री का 20 मई का जम्मू-कश्मीर का एक दिवसीय दौरा उनके  पिछले दौरों से थोड़ा अलग था. हालांकि इस बार

Read more

जनता खामोश है लेकिन आपके खिलाफ है

अगले साल आम चुनाव होने वाले हैं. चार साल पहले नरेंद्र मोदी ने लोगों में यह उम्मीद पैदा कर दी

Read more

क्या भारत एक असुरक्षित राष्ट्र बनना चाहता है!

असम सहित उत्तर पूर्व के सातों राज्य इस समय एक बड़े आंदोलन के दरवाजे पर खड़े हैं. स्वयं असम के

Read more

संघर्ष-विराम : आशा की एक किरण

मजान के पवित्र महीने से दो दिन पहले केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक आश्चर्यजनक घोषणा की. उन्होंने अपने

Read more

कश्मीर का समाधान… कश्मीरियत, इंसानियत और जम्हूरियत

मई में मैं नौ दिनों तक सैलानी के रूप में कश्मीर में रहा. इस दौरान मैं मुख्य रूप से तीन

Read more