हमारी विदेश नीति-अर्थ नीति की विश्वसनीयता खतरे में है

नेपाल हमारा वर्षों से मित्र रहा है. हज़ारों साल या जब से ये दोनों देश अस्तित्व में आए, हम नेपाल

Read more

आज की राजनीति ग़रीबों के हितों के खिलाफ है

जिन दिनों कांग्रेस देश में प्रमुख सत्ताधारी पार्टी हुआ करती थी और दिल्ली व देश के कई राज्यों में कांग्रेस

Read more

क्या लोकतंत्र का यह स्वरूप नैतिक और संविधान सम्मत है!

जैसे-जैसे आजाद हुए समय बीतता जा रहा है, वैसे-वैसे ऐसा लगता है कि पुराने लोग देवताओं के समान थे और

Read more

संघ अपनी विचारधारा से समझौता कर रहा है

कहते हैं, जब कोई समाजवादी तानाशाह बनता है तो बहुत घटिया तानाशाह बनता है. हालांकि कई तानाशाह ऐसे हुए हैं,

Read more

जो सवाल पूछेगा देशद्रोही मान लिया जाएगा

एक अद्भुत बाज़ीगरी पूरे देश के साथ हुई है. जब लोकसभा चुनाव हो रहे थे, उस समय पहले आडवाणी ने,

Read more

सरकारें शहीदों का अपमान कर रही हैं

प्रधानमंत्री जी के बहाने मैं सभी देशवासियों से ये पूछना चाहता हूं कि क्या हम सब कृतघ्न हो गए हैं?

Read more

नोटबंदी का फैसला अर्थव्यवस्था को कई साल पीछे ले गया है

भारत में सरकार जैसे काम कर रही है उसकी प्रशंसा होनी चाहिए. जब प्रधानमंत्री मोदी ने सत्ता संभाली थी, उसके

Read more

एक पाठक का प्रधानमंत्री के नाम खुला खत

मै संपादकीय में कभी-कभी उन लोगों की आवाज भी शामिल करता हूं, जो मेरा संपादकीय पढ़ते हैं. मेरे एक पाठक

Read more

असली देशद्रोही को पहचानना सीखिए

मुझे किसी ने दो दिन पहले एक कहानी सुनाई. कहानी पुरानी है. एक राजा था. एक दिन उसके यहां दो

Read more

जितेंद्र सिंह जी यह ग़ुस्सा पौरुषहीन है

हम अपने को उस भीड़ में चाह कर भी शामिल नहीं कर पाते, जो भीड़ विरुदावली गाती है, जो भीड़

Read more

प्रधानमंत्री जी, कश्मीर का समाधान शस्त्र नहीं संवाद है

श्री नगर में, शहर में भी और उत्तरी व दक्षिणी कश्मीर के देहातों में पूरा बंद है. आंदोलनों के इतिहास

Read more

सरकार ही क़ानून तोड़ेगी तो क़ानून की रक्षा कौन करेगा

ये शिकायत नहीं है, ये गुस्सा भी नहीं है और इसके आगे कहें, तो अब कोई तकली़फ  भी नहीं है,

Read more