साहित्य, संस्कृति और कला का मिलाप

उस दिन मुंबई के मरीन ड्राइव पर सुबह टहलनेवालों का जमावड़ा लगा था तो किसी को यह अंदाजा नहीं था

Read more

जश्न-ए-रेख्ता : उर्दू पुनरुत्थान आंदोलन में मील का पत्थर है

उर्दू का जश्न मनाने के लिए आयोजित तीन दिवसीय जश्न-ए-रेख्ता के समापन पर प्रतिभागी इतने प्रभावित हुए कि उन्हें लगा

Read more

बिछड़े सभी बारी-बारी

हिंदी साहित्य में फेसबुक अब एक अनिवार्य तत्व की तरह उपस्थित है. कई साहित्यकार इस माध्यम को लेकर खासे उत्साहित

Read more

मोदी जी का चित्र परिवर्तन

आज खादी ग्रामउद्योग के कलैंडर और डायरी से सरकार द्वारा गांधी जी को विदा कर दिया गया. इस गोपनीय विदाई

Read more

परद्रव्येषु आत्मवत्‌

बचपन में पढ़ाया जाता था परद्रव्येषु लोष्टवत. पर दारेषु मातृवत तो निरर्थक होता जा रहा है. मोदी जी के आने

Read more