भारत- फ्रांस, दोनों को एक दूसरे की ज़रूरत है

फ्रांस के राष्ट्रपति की भारत यात्रा को किन अर्थों में देखा जाना चाहिए. क्या यह फ्रांस की रणनीति का हिस्सा

Read more

ज़िंदादिली की मिसाल स्टी़फन हॉकिंग

इंसान चाहे तो क्या नहीं कर सकता. अपनी हिम्मत और लगन के बूते वह नामुमकिन को भी मुमकिन बना सकता है. इसकी एक बेहतरीन मिसाल है स्टी़फन हॉकिंग, जिन्होंने असाध्य बीमारी के बावजूद कामयाबी के आसमान को छुआ. तक़रीबन 22 साल की उम्र में उन्हें एमियो ट्रोफिक लेटरल स्केलरोसिस नामक बीमारी हो गई थी. यह ऐसी बीमारी है, जो कभी ठीक नहीं होती. इसकी वजह से व्यक्ति का पूरा जिस्म अपंग हो जाता है, स़िर्फ दिमाग़ ही काम करने योग्य रहता है. स्टी़फन ने एक बार कहा था कि मैं भाग्यशाली हूं कि मेरा केवल शरीर बीमार हुआ है. मेरे मन और दिमाग़ तक रोग पहुंच नहीं पाया.

Read more

अनुराधा बनीं एएस

1981 बैच की आईएएस अधिकारी अनुराधा गुप्ता को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव बनाया गया है. वह इसी मंत्रालय में संयुक्त सचिव के पद पर काम कर रही थीं.

Read more

सूरज का डबल धमाका

यह खोज कुछ नई है. इस बार वैज्ञानिकों ने दो सूरज वाले ग्रह को खोजने का दावा किया है. अंतरिक्ष विज्ञानियों ने एक ऐसा ग्रह खोज निकाला है, जिसके पास दो सूर्य हैं. ग्रह को केपलर 16 बी नाम दिया गया है. आकार में शनि के बराबर का कैपलर 16 बी हमारे सूर्य से छोटे दो तारों की परिक्रमा करता है.

Read more

विशालकाय तारों की खोज

वैज्ञानिकों ने कुछ विशालकाय सितारों की खोज की है. उक्त तारे इतने बड़े हैं, जिनकी कल्पना वैज्ञानिकों ने भी नहीं की थी. इनमें से एक तारा, जिसे सामान्य तौर पर आर-136(ए) के नाम से जाना जाता है, अब तक खोजे गए तारों में सबसे बड़ा है.

Read more

नैनो सेटेलाइट जुगनू

छह मार्च, 2010 आईआईटी कानपुर के इतिहास का सबसे सुनहरा दिन था, क्योंकि संस्थान ने इसी दिन अपनी स्थापना के 50 बरस पूरे किए. यह ऐतिहासिक दिन आईआईटी कानपुर के लिए उपलब्धियों के लिहाज़ से भी यादगार बना. संस्थान ने अंतरिक्ष की दुनिया में एक प्रभावी क़दम ब़ढाया.

Read more