किसानों की मूल समस्याओं की उपेक्षा

पिछले दिनों वर्ष 2013-14 का बजट वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने पेश किया. मीडिया से लेकर अर्थशास्त्रियों की पैनी नज़र

Read more

ग़रीबी घटाने के लिए रणनीति बदलनी होगी

अन्ना हजारे एक टेलीविजन कार्यक्रम में गए और उन्होंने कहा कि भारत में दो तरह के लोग हैं. पहले तरह के लोग वे हैं, जो कहते हैं कि क्या खाऊं, मतलब यह कि उनके पास खाने को इतना कम है कि उन्हें यह सोचना पड़ता है कि वे क्या खाएं. दूसरे तरह के लोग वे हैं, जो कहते हैं कि क्या-क्या खाऊं, मतलब यह कि उनके पास खाने की इतनी चीजें उपलब्ध हैं कि उन्हें उनमें चुनना पड़ता है कि क्या-क्या खाएं.

Read more

साई बाबा की भिक्षा

एक बार शिरडी के साई बाबा से उनकी परमभक्त लक्ष्मी ने पूछा, बाबा अब जबकि द्वारका माई में हर समय धूनी जलती रहती है, सुबह-शाम ग़रीबों की भूख मिटाती यह रसोई क्या आपके लिए दो रोटी नहीं दे सकती?

Read more