विक्रम कुंवर के बाद बबलू देव ने भी जदयू से नाता तोड़ा, राजद से सवर्णों के इस प्यार का मतलब क्या है?

आगामी लोकसभा चुनाव में मोतिहारी से बबलू देव को राजद प्रत्याशी बनाये जाने के कयास तेज हैं. हालांकि, 2014  में

Read more

बिहार उपचुनाव : राजनीतिक दलों के लिए अग्निपरीक्षा है

फैक्ट फाइल अररिया, जहानाबाद में दिवंगत नेताओं के पुत्र हैं राजद उम्मीदवार जदयू प्रत्याशी अभिराम को पिछली बार नहीं मिला

Read more

अररिया उपचुनाव में एनडीए और राजद में होगा सीधा मुक़ाबला

ऐसी चर्चा है कि अररिया उपचुनाव में एनडीए की तरफ से भाजपा ही अपना प्रत्याशी देगी. भाजपा की ओर से

Read more

जानिए क्यों राजद और शरद दोनों को एक दूसरे की जरूरत है

संजय सोनी : पूरे कोसी में आजकल एक सवाल काफी चर्चा में है. जगह-जगह राजनीतिक मिजाज के लोग एक दूसरे

Read more

महागठबंधन टूटने का असर, राजद और कांग्रेस विधायकों के रास्ते होंगे मुश्किल

महागठबंधन में टूट और जदयू के एनडीए में शामिल हो जाने के बाद बिहार का राजनीतिक समीकरण पूरी तरह से

Read more

बिहार की राजनीति में वंशवाद का ज़हर

लालू  यादव और रामविलास पासवान बिहार की राजनीति में वंशवाद का जहर मिलाने पर अ़डे हैं. पासवान के बेटे चिराग

Read more

मुसलमानों को खुश करने में व्यस्त हैं सभी पार्टियां …लेकिन किधर जाएंगे मुसलमान

राजनीति और अंकगणित में एक बुनियादी फ़र्क है. अंकगणित में दो और दो का जोड़ हर हाल में चार ही

Read more

जब तोप मुकाबिल हो : प्रार्थना कीजिए, सब कुछ अच्छा हो

कांग्रेस सबसे अच्छी स्थिति में है. भारतीय जनता पार्टी की अंतर्कलह ने उसे नया जीवनदान दे दिया है. महंगाई, भ्रष्टाचार, बेरोज़गारी एवं

Read more

सुशासन का सच या फरेब

बिहार के चौक-चौराहों पर लगे सरकारी होर्डिंग में जिस तरह सुशासन का प्रचार किया जाता है, वह एनडीए सरकार की शाइनिंग इंडिया की याद दिलाता है. बिहार से निकलने वाले अ़खबार जिस तरह सुशासन की खबरों से पटे रहते हैं, उसे देखकर आज अगर गोएबल्स (हिटलर के एक मंत्री, जो प्रचार का काम संभालते थे) भी ज़िंदा होते तो एकबारगी शरमा जाते. ऐसा लिखने के पीछे तर्क है.

Read more

नीतीश रोकेंगे मोदी का रथ

गांधीनगर, राजकोट एवं मुंबई से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री को कुर्सी खाली करने के लिए हुंकार भर रहे हैं, पर पाटलिपुत्र की धरती से एक आवाज़ ऐसी भी उठ रही है, जो नरेंद्र मोदी के विजय रथ का पहिया रोक सकती है.

Read more

बिहार : युवाओं की सेना सज गई

राजनीतिक प्रयोग की धरती बिहार में पिछले दिनों एक नया प्रयोग हुआ. भले ही इस प्रयोग को अभी ज़मीनी चुनौतियों से गुज़रना है, पर इस अनूठी पहल ने यह सा़फ कर दिया कि सूबे का युवा नेतृत्व अब आर-पार की लड़ाई के मूड में आ चुका है और वह युवाओं को उनका हक़ दिलाने के लिए किसी भी सीमा तक जा सकता है.

Read more