जानिए पूरा मामला, जिसने शशिकला को पहुँचाया सलाखों के पीछे

बेहिसाब प्रॉपर्टी मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शशिकला को दोषी माना है और ट्रायल कोर्ट ने 4 साल की सजा

Read more

शशिकला के ‘अम्मा’ बनने की राह में दीपा बन रही हैं रोड़ा, बदल सकते हैं TN के सियासी समीकरण !

नई दिल्ली (ब्यूरो, चौथी दुनिया): जयललिता के बाद तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी AIADMK की कमान कौन संभालेगा, इसको लेकर पार्टी

Read more

जयललिता स्वास्थ्य: कयामत की रात के बाद खतरे से बाहर आईं अम्मा

नई दिल्ली (ब्यूरो, चौथी दुनिया): तमिलनाडु के लिए रविवार की रात किसी कयामत से कम नहीं थी। लंबे वक्त से

Read more

विधानसभा चुनाव परिणाम : नया गणित, नए प्रतिमान नई उम्मीदें, नई चुनौतियां

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव का परिणाम आ गया है. पश्चिम बंगाल में वाममोर्चा की करारी  हार हुई है. कांग्रेस

Read more

कम होती बहस और प्रचार की परंपराएं

देश में मौजूदा राजनीति भले ही कई विसंगतियों की शिकार रही हो, लेकिन लोकसभा, विधानसभा, ग्राम पंचायतों और शहरी निकायों

Read more

जब तोप मुक़ाबिल हो : अब पार्टी उम्मीदवार नहीं, जन उम्मीदवार

लोकसभा चुनावों के बाद की स्थिति की बात करें, तो कांग्रेस का नेता कौन होगा, यह तय है. राहुल गांधी

Read more

तीसरा मोर्चा : कैसे बनेंगे प्रधानमंत्री

यूं तो तीसरा मोर्चा बनाने की नूरा-कुश्ती हिंदुस्तान की सियासत में पिछले पच्चीस सालों से चल रही है, लेकिन इस

Read more

व्यवस्था संविधान को धोखा देकर बनी है

कर्नाटक में कांग्रेस भारी बहुमत से जीत गई और भारतीय जनता पार्टी हार गई. क्या इसका मतलब हम यह निकालें

Read more

तीसरा मोर्चा संभावनाएं और चुनौतियां

लोकसभा में एफडीआई के मुद्दे पर दो दलों ने जो किया, वह भविष्य की संभावित राजनीति का महत्वपूर्ण संकेत माना जा सकता है. शायद पहली बार मुलायम सिंह और मायावती किसी मुद्दे पर एक सी समझ रखते हुए, एक तरह का एक्शन करते दिखाई दिए. यह मानना चाहिए कि अब यह कल्पना असंभव नहीं है कि चाहे उत्तर प्रदेश का चार साल के बाद होने वाला विधानसभा का चुनाव हो या फिर देश की लोकसभा का आने वाला चुनाव, ये दोनों साथ मिलकर भी चुनाव लड़ सकते हैं.

Read more

तमिलनाडुः भ्रष्टाचार पर जनता का कहर बरपा

तमिलनाडु में जनता ने करुणानिधि और कांग्रेस गठजोड़ को एक सिरे से नकार दिया है. डीएमके की यह 1991 के बाद अब तक की सबसे बुरी हार है, जब राजीव गांधी की हत्या हुई थी. यह डीएमके के 1967 से अब तक के राजनीतिक इतिहास का दूसरा सबसे बड़ा झटका है.

Read more

तमिलनाडुः बदहाल जनता और नेताओं के खोखले वादे

तमिलनाडु की राजनीति दो गुटों में बंटी हुई है. एक गुट का नेतृत्व जयललिता की पार्टी एआईडीएमके करती है और दूसरी तऱफ वह गुट है, जो एम करुणानिधि की पार्टी डीएमके के नेतृत्व में है और जिसमें कांग्रेस भी शामिल है. यह दोनों पार्टियां द्रविड़ पार्टियां कहलाती हैं, क्योंकि इतिहास में द्रविड़ संग्राम से इनका जन्मा हुआ, जो कि उत्तर भारतीय पार्टियों के ख़िला़फ शुरू हुआ था.

Read more