मध्य प्रदेश, राजस्थान विधानसभा चुनाव : भाजपा को फर्ज़ी वोटरों का ही सहारा

सत्ता विरोधी लहर से जूझ रही भारतीय जनता पार्टी अब मध्यप्रदेश और राजस्थान में फर्जी मतदाताओं में ही अपनी जीत

Read more

मध्य प्रदेश : क्या सिंधिया मध्य प्रदेश कांग्रेस की कमान संभाल पाएंगे?

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों में दो बार भाजपा से पटखनी खाने वाली कांग्रेस पार्टी भीतर की गुटबाजियों से निजात पाकर

Read more

महाराजा के हाथ कमान

मध्य प्रदेश की सुस्त राजनीति में आने वाला समय काफी उथल-पुथल भरा हो सकता है. इसका अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कांग्रेस एक महाराजा की ताजपोशी पर आमादा है. राष्ट्रीय स्तर पर यह अफवाहें गर्म हैं कि कांग्रेस हाईकमान मध्य प्रदेश में अग्रिम मुख्यमंत्री का चयन पहले ही कर चुका है.

Read more

भाजपा और कांग्रेस में रेलवे ट्रैक पर श्रेय की दौड़

ग्‍वालियर से श्योपुर तक चलने वाली छोटी लाईन रेल को बड़ी लाईन में किसने परिवर्तित करवाया, इसका श्रेय लेने के लिए इन दिनों कांग्र्रेस और भाजपा के मध्य संघर्ष चल रहा है. भाजपा के नेता इसे अपनी मांग की पूर्ति बताकर विजयी मुद्रा में खड़े हैं, तो वहीं क्षेत्र के प्रभावशाली केंद्रीय मंत्री सिंधिया भी अन्य केंद्रीय मंत्रियों से अपनी वाहवाही का गान करवा रहे है.

Read more

भाजपा में अंसतोष की संभावनाएं

हैं.
लोकसभा चुनाव के बाद मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का वर्तमान नेतृत्व क्या संकट में होगा? इस तथ्य की खोज के लिए भारतीय जनता पार्टी के दो परस्पर विरोधी गुट आपस में भिड़ गए हैं. मध्यप्रदेश की राजनीति में आने वाले पांच वर्षों के लिए शिवराज सिंह चौहान का एकाधिकार निर्विवादित रूप से माना जा रहा है, जिसे चुनौती देने के लिए भाजपा का एक गुट लोकसभा चुनाव को दल की राजनीति का आधार बनाने की फिराक में है. भारतीय जनता पार्टी की मध्यप्रदेश की सरकार आरामदेह बहुमत के साथ राज्य में पांच साल तक सत्ता संचालन के लिए सक्षम है.

Read more