सूर्यकांत त्रिपाठी निराला : आदर्शों और सिद्घांतों से कभी समझौता नहीं किया

निराला जैसे व्यक्तित्व सिर्फ एक बार पैदा होते हैं. उन्होंने अपने संपूर्ण जीवन में न केवल परिस्थितियों से लोहा लिया,

Read more

नज़रुल इस्लाम : अंगे्जी हुकूमत के ख़िलाफ़ एक विद्रोही कवि

जीवन जैसे-जैसे दुरूह होता जाएगा, नज़रुल इस्लाम जैसे युग द्रष्टा कवि की याद उतनी ही तीव्र होती जाएगी. दरअसल, उन्होंने

Read more

भारत-सऊदी अरब : निताका ने बढाई चिंता 50 हज़ार कामगार होंगे बेरोजगार

सऊदी अरब सरकार ने निताक़ा नामक क़ानून बनाकर वहां कार्यरत विदेशी कामगारों की चिंता बढ़ा दी है. लगभग 50 हज़ार

Read more

जब तोप मुकाबिल हो : प्रार्थना कीजिए, सब कुछ अच्छा हो

कांग्रेस सबसे अच्छी स्थिति में है. भारतीय जनता पार्टी की अंतर्कलह ने उसे नया जीवनदान दे दिया है. महंगाई, भ्रष्टाचार, बेरोज़गारी एवं

Read more

उपचुनाव के नतीजे : कांग्रेस का सपना चकनाचूर

हाल में हुए लोकसभा एवं विधानसभा सीटों के उपचुनावों के परिणामों ने सबको चौंका दिया है. बिहार में राजद की

Read more

ऋतूपर्णों घोष के निधन से इंडस्ट्री सदमे में : नहीं रहे क्रिएटिव फिल्म मेकर

सत्यजीत रे और रबींद्रनाथ टैगोर से प्रभावित ऋतुपर्णो घोष एकमात्र ऐसे फिल्म मेकर थे, जिन्हें 12 नेशनल अवॉर्ड मिला. 49

Read more