शादी बच्‍चे कराएंगे

हाल में सगाई करने वाली हॉलीवुड की सबसे हॉट जोड़ियों में शुमार ब्रैड पिट और एंजेलिना जॉली इन दिनों अपनी शादी के लिए अपने बच्चों की मदद ले रहे हैं. ब्रैड और जोली ने बच्चों को शादी की तैयारी की ज़िम्मेदारी सौंपी है.

Read more

समाज को आईना दिखाती रिपोर्ट

हाल में यूनीसेफ द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार भारत में 22 फीसदी लड़कियां कम उम्र में ही मां बन जाती हैं और 43 फीसदी पांच साल से कम उम्र के बच्चे कुपोषण का शिकार हैं. रिपोर्ट के अनुसार, ग्रामीण क्षेत्रों के अधिकतर बच्चे कमज़ोर और एनीमिया से ग्रसित हैं. इन क्षेत्रों के 48 प्रतिशत बच्चों का वज़न उनकी उम्र के अनुपात में बहुत कम है. यूनिसेफ द्वारा चिल्ड्रन इन अर्बन वर्ल्ड नाम से जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि ग्रामीण क्षेत्रों की अपेक्षा शहरी ग़रीबों में यह आंकड़ा और भी चिंताजनक है, जहां गंभीर बीमारियों का स्तर गांव की तुलना में अधिक है.

Read more

टीवी और ब्लड प्रेशर

यदि आपके बच्चे जरूरत से ज्यादा टेलीविज़न देखते हैं या टीवी पर वीडियो गेम खेलते हैं तो उन्हें रोकिए, क्योंकि यह दोनों चीजें बच्चों के रक्तचाप को बढ़ा सकती हैं. यह बात अमेरिका में हुए एक अध्ययन में सामने आई है. 111 बच्चों पर किए गए अध्ययन में यह पाया गया कि टेलीविज़न और वीडियो देखने, कंप्यूटर के उपयोग और वीडियो गेम खेलने के कारण शारीरिक रूप से निष्क्रिय गतिविधियों की अधिकता हो जाती है, जिसकी वजह से बच्चों में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है.

Read more

एक साथ १२ बच्चे

अभी आप जो पढ़ेंगे, वह निश्चित तौर पर आपको चौंका देगा, क्योंकि बात ही कुछ ऐसी है. ट्यूनीशिया की एक महिला एक साथ 12 बच्चों को जन्म देकर विश्व रिकॉर्ड बनाने की तैयारी में है. गल्फ न्यूज़ वेबसाइट में प्रकाशित ख़बर के मुताबिक़, इस 30 वर्षीय महिला का इससे पहले दो बार गर्भपात हो चुका है. दक्षिण-पश्चिम ट्यूनीशिया के गाफसा की मूल निवासी यह महिला अरबी भाषा की अध्यापिका है.

Read more

साथ धड़कते हैं दिल

मां और बच्चे का रिश्ता वैसे तो अनोखा होता ही है, लेकिन गर्भावस्था में शिशु का दिल मां के दिल के साथ धड़कता है. इस बात का खुलासा वैज्ञानिकों ने किया है. उनका मानना है कि जब गर्भवती महिला लयबद्ध ढंग से सांस लेती है तो उसका और भ्रूण का दिल साथ-साथ धड़कता है.

Read more

बच्‍चों के डिजाइनर कपड़े

अंतराष्ट्रीय फैशन जगत के लिए बच्चे भी उतने ही महत्वपूर्ण हैं, जितने कि बड़े. विदेशों में जिस तरह बड़ों के लिए फैशन शो होते हैं, वैसे ही बच्चों के लिए भी ऐसे आयोजन अक्सर होते रहते हैं, जबकि भारत में ऐसा नहीं है.

Read more