आखिर कब तक विकास की क़ीमत चुकाते रहेंगे आदिवासी

विकास की सबसे बड़ी कीमत आदिवासी समाज को चुकानी पड़ रही है. आदिवासियों को उनकी जमीन से बेदखल किया जा

Read more

48 लाख करोड़ का महाघोटाला

जबसे यूपीए सरकार बनी है, तबसे देश में घोटालों का तांता लग गया है. देश के लोग यह मानने लग गए हैं कि मनमोहन सिंह सरकार घोटालों की सरकार है. एक के बाद एक और एक से बड़ा एक घोटाला हो रहा है. चौथी दुनिया ने जब 26 लाख करोड़ रुपये के कोयला घोटाले का पर्दाफाश किया था, तब किसी को यह यकीन भी नहीं हुआ कि देश में इतने बड़े घोटाले को अंजाम दिया जा सकता है.

Read more