राजा, टाटा, अंबानी और नीरा राडिया

लोकतंत्र के सबसे बड़े मंदिर लोकसभा में झारखंड के गोड्डा के एक युवा सांसद निशिकांत दुबे ने आम बजट परिचर्चा में भाग लेते हुए सरकार की ओर ज्वलंत सवालों के कई गोले दनादन एक साथ दाग दिए तो एकबारगी पूरा सत्तापक्ष भी सन्न रह गया था. भाजपा के इस युवा सांसद ने सरकार से पूछा कि एक टेप आया है, एक पीआर एजेंसी के बारे में.

Read more

गोंड राजाओं की राजधानी रामनगर बर्बादी की कगार पर

इतिहास और पर्यटन के मामले में भी सरकार और बाज़ार की शक्तियों का संकीर्ण रवैया बना हुआ है. भारत के इतिहास और पर्यटन में लाल किला, कुतुबमीनार, ताजमहल, खजुराहो, विजय नगरम्‌, कोणार्क आदि का तो बढ़-चढ़कर महत्व बताया गया है, लेकिन प्रतापी गोंड राजाओं के भव्य और शानदार किलों, महलों, मंदिरों और नगरों पर किसी का कोई ध्यान नहीं, जबकि यदि इन स्मारकों और खंडहरों को ईमानदारी से देखा जाए

Read more

जंगल के राजा पर संकट

विश्व प्रसिद्ध कान्हा नेशनल पार्क में शेरों की संख्या घटकर केवल 89 बची है. वर्ष 1993 में टाइगर रिजर्व घोषित होने के बाद से बढ़ने वाली यह संख्या अब तक के सबसे कम संख्यांक तक पहुंच रही है. कान्हा प्रबंधन भी शेरों की गणना से मीडिया को दूर रखना चाहता है. इससे यह संकेत मिलता है कि, मध्य प्रदेश जैसा विशाल राज्य अपने टाइगर रिजर्व को संरक्षित रख पाने में कहीं-न-कहीं असफल रहा है.

Read more

104 वर्ष की हुई पुलिस अकादमी

सन 1660 में राजा ऊदनशाह द्वारा निर्मित किए गए विशालकाय दुर्ग को आज सागर में जवाहरलाल नेहरू पुलिस अकादमी के नाम से जाना जाता है. 104 वर्ष की उम्र में आज भी इस अकादमी का वैभव और गरिमा वैसे ही है जैसे 1660 में थी. जवाहरलाल नेहरू पुलिस अकादमी का गौरवमयी इतिहास मध्य प्रदेश में प्रभावशाली पुलिस व्यवस्था का जीवंत प्रमाण है.

Read more