ये जॉर्ज को मिटाने की साजिश है!

पच्चीस सालों तक आप किसी व्यक्ति की तरफ पलट कर नहीं देखते. पच्चीसियों बार वह व्यक्ति बीमार होता है, अस्पताल में दा़खिल होता है. आप उसकी खैरियत तक नहीं पूछते. और, जब आपको अचानक पता चलता है कि जिंदगी से जूझता वह बीमार और लाचार आदमी तेरह करोड़ रुपयों का मालिक है तो रिश्तों की दुहाई देते हुए, स्नेह और आत्मीयता का आडंबर करते हैं और उसकी तीमारदारी के लिए पहुंच जाते हैं.

Read more

विकास नहीं, विनाश कर रहे नीतीशः लालू

बहुत पुरानी, लेकिन मानी हुई बात है कि इंसान ठोकर खाकर ही सीखता है. लोकसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को बिल्कुल बदल कर रख दिया है. आत्ममंथन के दौर में उन्हें अपनी ग़लतियों का अहसास हुआ, इसलिए अब वह बहुत फूंक फूंककर अपनी राजनीतिक चालें चल रहे हैं.

Read more