चम्पारण से शरद का शंखनाद, बग़ावत की धरती से लोकतंत्र बचाने निकला हूं

जनता दल यूनाइटेड से अलग होने के बाद से शरद यादव लगातार नीतीश कुमार के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार किए

Read more

जानिए क्यों राजद और शरद दोनों को एक दूसरे की जरूरत है

संजय सोनी : पूरे कोसी में आजकल एक सवाल काफी चर्चा में है. जगह-जगह राजनीतिक मिजाज के लोग एक दूसरे

Read more

नई पार्टी बनाने के सवाल पर शरद यादव ने दिया चौंकाने वाला बयान

नई दिल्ली: महागठबंधन तोड़कर भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने वाले नितीश कुमार ने बिहार में राजनीति के सभी समीकरण

Read more

बिहार: शरद यादव की नीतीश के प्रति नाराजगी आई बाहर, कहा- इसलिए नहीं मिला था जनादेश !

नई दिल्ली। बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद पहली बार जेडीयू में नंबर दो की हैसियत रखने वाले शरद यादव

Read more

शरद यादव ने दिया विवादित बयान, कहा-बेटी की इज्जत से बढ़कर वोट की कीमत

नई दिल्ली (ब्यूरो, चौथी दुनिया)। विधानसभा चुनाव के दौर में विवादित बयानों का सिलसिला तेज हो गया है। इसी कड़ी

Read more

कम होती बहस और प्रचार की परंपराएं

देश में मौजूदा राजनीति भले ही कई विसंगतियों की शिकार रही हो, लेकिन लोकसभा, विधानसभा, ग्राम पंचायतों और शहरी निकायों

Read more

संविधान ,राजनितिक दल और लोकतंत्र : डॉ अम्बेडकर की चेतावनी सच साबित हो रही है

25 नवंबर, 1949 को संविधान बनकर तैयार हो चुका था. संविधान सभा संविधान बनाने की अपनी महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारी पूरी कर

Read more

आरटीआई और राजनितिक दल : फिर दिखा असली चाल, चरित्र और चेहरा

पंच का हुक्म भी नहीं मानेंगे और नाला भी वहीं बहेगा. यानी चोरी के साथ सीनाजोरी भी करेंगे, क्योंकि सैयां

Read more

चुनावी सर्वे के खेल में : मोदी और राहुल साथ-साथ है

देश में होने वाले चुनावी सर्वे न स़िर्फ भ्रामक हैं, बल्कि उन्हें राजनीतिक हथियार की तरह इस्तेमाल किया जा रहा

Read more

महिला आरक्षण बिल : पुरुष सांसदों को आपत्ति क्यों ?

पिछले साल दिल्ली में सामूहिक बलात्कार के हादसे के बाद देश में महिला सशक्तिकरण की आवाज़ फिर से बुलंद होने

Read more

संसद ने सर्वोच्च होने का अधिकार खो दिया है

भारत की संसद की परिकल्पना लोकतंत्र की समस्याओं और लोकतंत्र की चुनौतियों के साथ लोकतंत्र को और ज़्यादा असरदार बनाने के लिए की गई थी. दूसरे शब्दों में संसद विश्व के लिए भारतीय लोकतंत्र का चेहरा है. जिस तरह शरीर में किसी भी तरह की तकली़फ के निशान मानव के चेहरे पर आ जाते हैं, उसी तरह भारतीय लोकतंत्र की अच्छाई या बुराई के निशान संसद की स्थिति को देखकर आसानी से लगाए जा सकते हैं.

Read more

अन्ना और रामदेव की वजह से आशाएं जगी हैं

अन्ना हजारे और बाबा रामदेव जैसे लोगों को सावधान हो जाना चाहिए. इतने दिनों के बाद भी उन्हें यह समझ में नहीं आ रहा है कि कौन-सा सवाल उठाना चाहिए और कौन-सा नहीं. एक वक़्त आता है, जिसे अंग्रेजी में सेचुरेशन प्वाइंट कहते हैं. शायद जो नहीं होना चाहिए, वह हो रहा है, यानी लोकतंत्र सेचुरेशन प्वाइंट की तऱफ ब़ढ रहा है.

Read more

बिहारः कुर्सी का रिश्‍ता दिखावे का टकराव

बिहार में जदयू एवं भाजपा के रिश्तों में मौजूदा तल्खी के भले ही लाख मायने निकाले जाएं, पर यहां की ज़मीनी राजनीतिक सच्चाई को समझने वाले इत्मीनान की लंबी-लंबी सांसें ले रहे हैं. भाजपा की तिरंगा यात्रा को लेकर शरद यादव और नीतीश कुमार के बयानों पर भाजपा नेता हरेंद्र प्रताप का गुस्सा यह ज़रूर एहसास कराता है कि पार्टी में कुछ लोगों को यह अच्छा नहीं लगा.

Read more

शरद पर भारी पड़े नीतीश

राज्यसभा एवं विधान परिषद के लिए टिकट को लेकर जो कुछ भी हुआ, उससे जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव को पार्टी में अपनी हैसियत का ब़खूबी पता चल गया. पहले भी यह बात कही और सुनी जाती थी कि शरद यादव की जदयू में ज़्यादा नहीं चलती, पर हाल इतना बुरा है, यह पहली बार उनसे जुड़े नेता एवं कार्यकर्ता समझ पाए.

Read more

सोनिया गांधी इस घोटाले में शामिल नहीं हैं!

चौंसठ हज़ार करोड़ रुपये का घोटाला करने के बाद भी संचार मंत्री ए राजा बड़े ठाठ से अपने पद पर क्या इसलिए रहे, क्योंकि उनके रिश्ते कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मधुर हैं? जनता दल अध्यक्ष डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी आरोप लगाते हैं कि 2 जी स्पेक्ट्रम सौदे में सोनिया गांधी के केमैन आइलैंड स्थित बैंक ऑफ अमेरिका के खाते में करोड़ों डॉलर की एंट्री हुई है और इसके तमाम काग़ज़ात उनके पास मौजूद हैं.

Read more

नीतीश को पटखनी देंगे शरद

राज्यसभा में महिला बिल को लेकर हुई फजीहत के बाद आहत शरद यादव ने लोकसभा में आने वाले इस बिल और राज्यसभा चुनाव में नीतीश कुमार को पटखनी देने की तैयारी शुरू कर दी है.

Read more

क्‍या डॉ. लोहिया समाजवादियों को याद हैं?

समाजवादी आंदोलन का इतिहास जुड़ने से ज़्यादा टूटने का रहा है. जिस डा. लोहिया को कांग्रेस के ख़िला़फ मोर्चा बनाने में जनसंघ से समझौता करने में परहेज नहीं हुआ, उसी जनसंघ के नए चेहरे भाजपा को लेकर समाजवादी खेमों में पिछले अनेक वर्षों से खींचतान मची हुई है. यह और बात है कि अनेक राजनीतिक दबावों के कारण शरद यादव और नीतीश कुमार ने भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए को स्वीकार किया और अब बिहार या झारखंड या दूसरी जगहों पर भाजपा के साथ सरकार चलाना मंजूर किया है.

Read more

महिला बिल और नीतीश

महिला आरक्षण विधेयक ने भारतीय राजनीति में कुछ सफाई तो की है. इसमें पहली यह कि विधेयक बनाने वाला शख्स सबसे महत्वपूर्ण होता है उसे पढ़ने वाला नहीं, क्योंकि कोई उसे पढ़ता ही नहीं है. महिला सीटें आरक्षित होंगी लेकिन फ्लोटिंग होंगी. इसका मतलब किसी भी चुनाव में जीती महिला सांसद अपनी जनता के प्रति जवाबदेह होगी ही नहीं, क्योंकि उसे पता है कि उसे वहां से दोबारा लड़ना ही नहीं है. कैबिनेट ने इसे पढ़ा या नहीं, और अगर पढ़ा तो इसे कैबिनेट की समझ की बलिहारी माननी चाहिए.

Read more

टिकट पाने वालों की बेचैनी बढ़ी

बिहार विधानसभा चुनाव आने में हालांकि अभी काफी समय है, फिर भी उसकी सुगबुगाहट आरंभ हो गई है. यही कारण है कि विधायक बनकर सत्ता सुख भोग रहे राजनीतिज्ञों के साथ-साथ पराजय का स्वाद चखने वालों व बीते पांच वर्षों से विधानसभा चुनाव लड़ने की मंशा पालने वालों की बैचेनी बढ़ गई है. सत्ता सुख भोग रहे विधायकों को टिकट मिलने और नहीं मिलने पर होने वाले गम से वे परेशान हैं.

Read more

सुशासन पर शराब के छींटे

बात निकली है तो दूर तलक जाएगी. ब़र्खास्त उत्पाद मंत्री ज़मशेद अशरफ अपनी पीड़ा का इज़हार करते-करते यहां तक कह गए कि जिस बिहार को बनाने मैं यहां आया था, शराब मा़फियाओं और उनको संरक्षण देने वाले अ़फसरों के गठजोड़ ने मेरे सपनों को चकनाचूर कर दिया. लेकिन हार नहीं मानूंगा, सच्चाई सामने लाने के लिए सीबीआई से लेकर अदालत तक का दरवाजा खटखटाऊंगा.

Read more

एक थे जॉर्ज फर्नांडिस!

एक थे जॉर्ज फर्नांडिस, जिन्होंने समाजवादी आंदोलन को भारत में डॉक्टर लोहिया के नेतृत्व में मधुलिमए के साथ मिलकर शानदार शक्ल दी. समाजवादी आंदोलन ने भारतीय राजनीति में नेतृत्व करने वाले ऐसे व्यक्तियों को पैदा किया, जिन्होंने अपने शुरुआती दिनों में आम आदमी और उसकी परेशानियों को दूर करने के लिए का़फी संघर्ष किए.

Read more