निकाय चुनावों में भाजपा की जीत का फर्जी ढिंढोरा: जहां ईवीएम वहां-वहां जीते

दो दिसम्बर 2017 को अखबारों के मुख्य पृष्ठ पर खबर थी कि भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश केे शहरी

Read more

नतीजों के बाद का Video: पैदल चलने पर भड़के आजम खान, बोल ‘मोदी जी ने कहा था क्या’?

नई दिल्ली (ब्यूरो,चौथी दुनिया)। समाजवादी पार्टी के लिए इन दिनों कुछ भी अच्छा नहीं हो रहा है। ज्यादातर चेहरे तो

Read more

आजम खान का विवादित बयान : रोज़गार नहीं है इसलिए ज्यादा बच्चे पैदा करते हैं मुसलमान

नई दिल्ली, (विनीत सिंह) : समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान और विवादों का चोली दामन साथ है. आजम

Read more

यूपी चुनाव 2017 : पंजे को मिला साइकिल का साथ तो डरने की क्या बात

नई दिल्ली, (विनीत सिंह) : यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र आज समाजवादी पार्टी और कांग्रेस की पहली जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस

Read more

विधानसभा चुनाव के पहले यूपी में बसपा का ग्राफ नीचे : छवि की छाया से माया हलकान

उत्तर प्रदेश के आने वाले विधानसभा चुनाव के पहले बसपा का ग्राफ नीचे उतरता दिखाई दे रहा है. बसपा के

Read more

विधानसभा चुनाव में उग्र हिंदूवादी धारा पर लौटेगी भाजपा! : महज़ संयोग नहीं है योगी से योग

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के ऐन पहले भारतीय जनता पार्टी क्या अपनी उग्र हिंदूवादी धारा पर लौटेगी? गोरखपुर क्षेत्र

Read more

उत्तराखंड में तेज हो रही सियासी जोर आजमाइश : सपा भी बांध रही मंसूबे

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने  जोर-आजमाइश करनी शुरू कर दी है. समाजवादी पार्टी ने भी उत्तराखंड

Read more

उत्तर प्रदेश में त्रिशंकु विधानसभा के आसार

2016 में हुए चुनाव के नतीजों को अभी पूरी तरह से समझा भी नहीं गया था कि अगले साल के

Read more

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में दलितों और पिछड़ों को आरक्षण देने पर जोर : चुनावी बिसात पर भाजपा का दांव

एएमयू में आरक्षण मसले पर दलितों और पिछड़ों को गोलबंद करने का अभियान यूपी के सांसदों-विधायकों को दिल्ली बुलाकर समझाया

Read more

पुराना जनता परिवार फिर मिल सकता है

कांग्रेस अभी इस सोच में जी रही है कि जो कुछ हुआ, वह सब कुछ एक खराब सपना था. एक

Read more

विवादित बयानों पर बवाल

सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव के विवादित बयानों ने उत्तर प्रदेश सरकार का सिरदर्द बढ़ा दिया है. यह बात भले

Read more

कितने गैर-राजनीतिक हुए राजनीतिक दल

सोलहवीं लोकसभा के चुनावी नतीजे हम सभी के सामने है. कई मायनों में यह नतीजा ऐतिहासिक है, तो इसका श्रेय

Read more

मोदी के जाल में केजरीवाल

वाराणसी से चुनाव लड़ने का अरविंद केजरीवाल का ़फैसला उनकी पार्टी के लिए आत्मघाती साबित हो सकता है. होना तो

Read more

कयासों का दौर शुरू

फैजाबाद संसदीय क्षेत्र के पत्ते प्रमुख चारों दलों ने खोल दिए हैं. भाजपा, कांग्रेस, सपा एवं बसपा प्रत्याशियों की घोषणा

Read more

सांप्रदायिकता और तुष्टिकरण की सियासत

उत्तर प्रदेश की राजनीति को समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता बड़ी चतुराई के साथ दो दलों

Read more

राजनीतिक पार्टियों की निगाह में : मुसलमान केवल मतदाता है

लोकसभा चुनाव नज़दीक हैं. वोट बैंक की राजनीति फिर से शुरू हो गई है. सभी राजनीतिक दल वोट बटोरने के

Read more

ज़मीनी स्तर पर क़िला मज़बूत करने की तैयारी

आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र उत्तर प्रदेश में सभी दल ज़मीनी कार्यकर्ताओं के संगठनों-प्रकोष्ठों को मज़बूत करने में लगे हैं.

Read more

बेलगाम और बदज़ुबान जनप्रतिनिधि

पिछले दो सालों के दौरान अखिलेश सरकार को जितनी चुनौतियां बाहर से नहीं मिलीं, उससे कहीं ज़्यादा पार्टी के कार्यकर्ताओं,

Read more

उत्तर प्रदेश : अखिलेश सरकार को अदालत का झटका : सपा का खेल हो गया फेल

विधानसभा चुनाव के दौरान किए गए अपने वादे पूरे करने की धुंध में समाजवादी पार्टी की सरकार सारे नियम-क़ानून ही

Read more

मुलायम से परेशान मुसलमान

बीते दिनों सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने अपने एक बयान में कहा कि उनकी सरकार ने उत्तर प्रदेश की

Read more

वोट की पटरी पर सवार रेल बजट

रेल भारत की रीढ़ है और इसका इस्तेमाल आम एवं खास सभी लोग करते हैं. ऐसी स्थिति में जाहिर है

Read more

तीसरा मोर्चा संभावनाएं और चुनौतियां

लोकसभा में एफडीआई के मुद्दे पर दो दलों ने जो किया, वह भविष्य की संभावित राजनीति का महत्वपूर्ण संकेत माना जा सकता है. शायद पहली बार मुलायम सिंह और मायावती किसी मुद्दे पर एक सी समझ रखते हुए, एक तरह का एक्शन करते दिखाई दिए. यह मानना चाहिए कि अब यह कल्पना असंभव नहीं है कि चाहे उत्तर प्रदेश का चार साल के बाद होने वाला विधानसभा का चुनाव हो या फिर देश की लोकसभा का आने वाला चुनाव, ये दोनों साथ मिलकर भी चुनाव लड़ सकते हैं.

Read more

मत भूलिए, आप सरकार के चेहरे हैं

बीते 5 जून को उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में बीडीसी की बैठक के दौरान ब्लॉक प्रमुख राजेश यादव से कहासुनी हो जाने पर समाजवादी पार्टी के विधायक हाजी इऱफान के भाई हाजी उस्मान एवं उनके समर्थकों ने गोलीबारी कर दी, जिससे कई लोग जख्मी हो गए.

Read more

उत्तर प्रदेशः घोटालों के गुरुघंटाल

सामाजिक एवं राजनीतिक मंच पर एक-दूसरे की टांग खींचने और खून के प्यासे लगने वाले नेताओं का असली चेहरा जनता कभी-कभी देख पाती है. सबके अपने-अपने स्वार्थ हैं, जो उन्हें एक-दूसरे के क़रीब लाते हैं. नेताओं की मिलीभगत के चलते उत्तर प्रदेश की पहचान आज घोटालों के प्रदेश के रूप में होती है. पिछले 20-25 वर्षों में तो घोटालों की बाढ़ सी आ गई.

Read more

राहुल कार्ड न चलने से कांग्रेस बेचैन

उत्तर प्रदेश में वोटों का गणित लगाने का समय क़रीब आ गया है. बसपा, सपा, भाजपा और कांग्रेस सहित सभी छोटे-बड़े दल अपनी क़िस्मत का सितारा चमकाने के प्रयास में लगे हैं, लेकिन अधूरे मन से.

Read more

बिहार : युवाओं की सेना सज गई

राजनीतिक प्रयोग की धरती बिहार में पिछले दिनों एक नया प्रयोग हुआ. भले ही इस प्रयोग को अभी ज़मीनी चुनौतियों से गुज़रना है, पर इस अनूठी पहल ने यह सा़फ कर दिया कि सूबे का युवा नेतृत्व अब आर-पार की लड़ाई के मूड में आ चुका है और वह युवाओं को उनका हक़ दिलाने के लिए किसी भी सीमा तक जा सकता है.

Read more

उत्तर प्रदेशः सपा अधिवेशन- न दिशा मिली न दशा संभली

आगरा में समाजवादी पार्टी का आठवां राष्ट्रीय अधिवेशन ऊहापोह और नसीहतों के बीच समाप्त हो गया. ताज नगरी के तारघर मैदान में बने लोहिया नगर में सपा नेताओं ने पहले दिन बसपा पर तो दूसरे दिन कांग्रेस पर निशाना साधा. कई मुद्दों पर भटकाव सा़फ दिखाई दिया. शुरू से लेकर अंत तक पार्टी तय नहीं कर पाई कि उसका दुश्मन नंबर वन कौन है?

Read more

उत्तर प्रदेशः जंग में कौन किसके संग

विधानसभा चुनाव की आहट के साथ ही चौक-चौराहों और सरकारी दफ़्तरों में राजनीतिक चर्चाओं का माहौल गरमाने लगा है. हालांकि चुनाव में अभी काफी समय बाक़ी है, लेकिन राजनीतिक दल अपनी गोटियां सेट करने और क्षेत्रीय दलों से गठबंधन की कोशिश में जुट गए हैं. कई नौकरशाह भी चुनावी समर में ताल ठोकने को तैयार हैं.

Read more

सियासत की सीढ़ी बनी शीलू

चोरी के आरोप में सलाखों के पीछे पड़ी शीलू को न्याय दिलाने के लिए राजनीतिक एवं सामाजिक संगठनों में होड़ मची है. सपा, भाजपा और कांग्रेस इस मुद्दे को लेकर धरना-प्रर्दशन कर रहे हैं. गुलाबी गैंग पहले ही उसकी मदद का ऐलान कर चुकी है और अब निषाद महासभा और अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा भी मैदान में आ गई है.

Read more

अपना गढ़ भी नहीं बचा सकी सपा

हाल ही में हुए पंचायत चुनाव में सपा को अपने ही ग़ढ में अपनों से ही शिकस्त मिली है. जहां पूर्व चुनावों में पार्टी ने तीन फीसदी से अधिक सीटों पर ज़िला पंचायत अध्यक्ष का परचम लहराया था. वहीं अब पार्टी थोड़ी सी सीटों पर काबिज़ होकर रह गई है.

Read more