मुख्य सचिव से मारपीट मामले में निपट जाएंगे केजरीवाल के आधा दर्जन विधायक!

दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ हुई मारपीट को लेकर अब आम आदमी पार्टी के लगभग आधा

Read more

केजरीवाल को लगा करार झटका, आप के 20 विधायकों की सदस्यता रद्द

दिल्ली की सत्ता पर काबिज़ आम आदमी पार्टी को करार झटका लगा है. दरअसल चुनाव आयोग के बाद राष्ट्रपति ने

Read more

आम आदमी पार्टी के तीन राज्यसभा उम्मीदवारों को टक्कर देने आया चौथा उम्मीदवार

राज्यसभा के लिए आम आदमी पार्टी ने अपने तीन उम्मीदवारों के नाम पर तो मुहर लगा दी है लेकिन अब

Read more

कल CM अरविन्द केजरीवाल के घर पर होगा AAP के राज्यसभा कैंडिडेट के नाम का ऐलान

दिल्ली की तीन राज्यसभा सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी की तरफ से कल यानी बुधवार

Read more

ऐसा क्या कर दिया कि एक बार फिर से चर्चा में आ गयीं गुरमेहर कौर

नई दिल्ली : हाल ही में दिल्ली के रामजस कॉलेज में जमकर विवाद हुआ था जिसमें गुरमेहर कौर ने अखिल

Read more

अकेला अरविंद पार्टी (आप)

हमने आम आदमी पार्टी के नेताओं को सरेआम झगड़ते देखा. ये झगड़े तब तक होते रहे, जब तक यह स्थापित

Read more

आईएसआईएस का भारत पर ख़तरा

भारत पर स्पष्ट और आसन्न ख़तरा मंडरा रहा है. आईएसआईएस की गहरी साजिश से देश को सावधान रहना होगा. जिस

Read more

मोदी के जाल में केजरीवाल

वाराणसी से चुनाव लड़ने का अरविंद केजरीवाल का ़फैसला उनकी पार्टी के लिए आत्मघाती साबित हो सकता है. होना तो

Read more

मुसलमान किधर जाएंगे

यह प्रश्‍न निश्‍चय ही बहुत महत्वपूर्ण है कि 80 संसदीय सीटों, जिनमें 63 सामान्य एवं 17 सुरक्षित हैं, वाले देश

Read more

नीति और नीयत साफ़ नहीं है

वैचारिक विरोधाभास किसी भी राजनीतिक दल की सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है. ऐसी पार्टियां समाज को नेतृत्व नहीं

Read more

राजनीतिक हवाओं के रुख़ को समझिए

आम आदमी पार्टी एक नया प्रयोग है, जिसे हम सभी ने बेहद क़रीब से देखा. पार्टी के जो भी पांच-छह

Read more

दिल्ली के बिहारियों ने नीतीश को नकारा

हाल ही में संपन्न हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने जहां अप्रत्याशित रूप से जनसमर्थन हासिल करके

Read more

जनता का फैसला अभी बाक़ी है

एक साल पहले अन्ना आंदोलन के बाद अस्तित्व में आई अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी दिल्ली विधानसभा में चुनाव

Read more

यह आम आदमी की पार्टी है

भारतीय राजनीति का एक शर्मनाक पहलू यह है कि देश के राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय दलों की कमान चंद परिवारों तक सीमित हो गई है. कुछ अपवाद हैं, लेकिन वे अपवाद ही हैं. अगर ऐसा ही चलता रहा तो देश के प्रजातंत्र के लिए खतरा पैदा हो जाएगा. राजनीतिक दलों और देश के महान नेताओं की कृपा से यह खतरा हमारी चौखट पर दस्तक दे रहा है, लेकिन वे देश की जनता का मजाक उड़ा रहे हैं.

Read more