नोटबंदी का जिन्न एक बार फिर बाहर, बैंक अमित शाह का पैसा किसका!

नोटबंदी लागू करने का उद्देश्य आतंकवाद, नकली नोट और कालाधन पर हमला बताया गया था. लेकिन जल्द ही यह पता

Read more

ठगी करने वाला बैंक और बचाने वाले मंत्री

बॉम्बे मर्केंटाइल बैंक की जालसाजियां देशभर में कुख्यात हैं. शेयर घोटाले से लेकर तरह-तरह के फ्रॉड में यह बैंक लंबे

Read more

कंपनियों को नीलाम करने में देश का हित नहीं है

देश में उद्योगों और बैंकों की स्थिति बहुत गंभीर हो गई है. पिछले दिनों पंजाब नेशनल बैंक ने घोषणा की

Read more

संपत्ति में इतनी ज्यादा बढ़ोत्तरी कैसे

आम आदमी के खाते में चंद पैसों की आमद भी बैंकों के लिए तहकीकात का कारण बन जाती है, लेकिन

Read more

कॉर्पोरेट बनाम किसान, सरकार की प्राथमिकता कौन

भारत में सरकारी क्षेत्र के बैंकों का एनपीए (यानि नॉन-परफॉर्मिंग असेट) एक ऐसा मुद्दा है, जो सरकारी तंत्र के लाख

Read more

जानें, बैंक से 50 हज़ार से ज्यादा के लेनदेन के ये नए नियम

केन्द्र सरकार ने एक बार फिर से कालेधन पर नकेल कसने के लिए एक नया आदेश जारी किया है. जी

Read more

सरकार की प्राथमिकता में नहीं हैं किसान

किसानों का सवाल पिछले 60 साल में हर गुजरते दिन के साथ महत्वपूर्ण होता चला गया है, लेकिन किसी सरकार

Read more

बैंकों की ओर से नए साल का तोहफा, एसबीआई समेत तीन बैंकों ने सस्ते किए ब्याज दर

देश के तीन बड़े बैंकों एसबीआई, पंजाब नेशनल बैंक और यूनियन बैंक ने अपने लोन सस्ते कर फीसदी की कटौती

Read more

लेवी की करोड़ों की राशि ठिकाने लगाने में लगे नक्सली

बिहार-झारखण्ड के नक्सल प्रभावित सीमावर्ती क्षेत्रों के ग्रामीण इन दिनों काफी दहशत में हैं. सक्रिय नक्सली संगठन लेवी में वसूले

Read more

जितेंद्र सिंह जी यह ग़ुस्सा पौरुषहीन है

हम अपने को उस भीड़ में चाह कर भी शामिल नहीं कर पाते, जो भीड़ विरुदावली गाती है, जो भीड़

Read more

पूंजीपतियों ने लूट लिया देश का धन : बैंकों की मिलीभगत से हड़प लिए पांच लाख करोड़ रुपये : असली राष्ट्रद्रोही

मीडिया, राजनीति और कमोबेश पूरा समाज आजकल सांसद व कारोबारी विजय माल्या के 9 हजार करोड़ रुपये के कर्ज को

Read more

चौथी दुनिया ने उजागर किया था फ़र्जी ऋृण का मामला

फर्जी एलपीसी (भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र) सहित अन्य फर्जी कागजातों के आधार पर विभिन्न बैंकों को करोड़ों रुपये की चपत

Read more

भारतीय बीज जीन बैंक पर खतरा : निजी कृषि कंपनियों के हाथों बेचने की साजिश

यूनेस्को ने भारत के कई स्थानों की जैव विविधता को विश्व के लिए महत्वपूर्ण कृषि विरासत एवं खाद्य सुरक्षा के लिए उपयोगी मानते हुए उन्हें संरक्षित करने की बात कही है. 12वीं शताब्दी में ही रूस के प्रसिद्ध वनस्पति विज्ञानी निकोलाई वाविलो ने भारत को कई फसलों का उत्पत्ति केंद्र (ओरिजिन ऑफ क्रोप) बताया था. फिर भी जैव विविधताओं से भरे इस देश में जब एक किसान को विदेशी कंपनियों से बीज खरीदने पड़ें तो इसे क्या कहेंगे?

Read more

बैंकों का राष्ट्रीयकरण

पिछले कुछ वर्षों से एक और क़िस्म की बैंकिंग प्रणाली भारत में चालू हुई है. यह है सहकारिता बैंक. कुछ किसान, मज़दूर अथवा उपभोक्ता अपने-अपने सीमित दायरे में सहकारिता बैंक खोल लेते हैं. सारे सदस्य थोड़ा-थोड़ा करके अपना फंड जमा करते हैं. शासन से मान्यता मिलने पर सरकार का सहकारी विभाग उस बैंक को पर्याप्त आर्थिक मदद दे देता है.

Read more

मुद्रास्फीति और बैंकिंग

स्टेट बैंक से किसी भी शहर या क़स्बे में आर्थिक सहायता प्राप्त हो सकती है. हालांकि अभी तक स्टेट बैंक का संचालन पूर्ण रूप से राष्ट्रीयकरण की पद्धति पर हुआ नहीं है. अब भी सब ओहदेदार ऑफिसर वर्ग या कर्मचारीगण उसी पुराने साम्राज्य के प्यादे ही हैं, जो पूंजीपतियों के अधीन था. अतएव वर्षों से चली आ रही अपनी आदतों को वे सहसा छोड़ नहीं सकते.

Read more

आईडीबीआई बैंक लिमिटेडः वित्तीय समावेशन की अनोखी पहल

पिछले दशक के दौरान भारत ने दुनिया में तेज़ी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्थाओं में ख़ुद को स्थापित किया है. ऐसे ही समय में वहां उच्च विकास दर की स्थिरता के बारे में एक नई बहस की शुरुआत भी हुई है. इस बहस में अमीरों और ग़रीबों के बीच बढ़ती खाई के बारे में एक रिपोर्ट भी जारी की गई है. दरअसल, विकास के मामले में भारत नए प्रतिमान स्थापित कर रहा है. देश हर क्षेत्र में आशातीत लक्ष्य हासिल कर रहा है.

Read more

सरकारी भूमि पूजन का औचित्या

पुलिस स्टेशनों, बैंकों एवं अन्य शासकीय-अर्द्ध शासकीय कार्यालयों एवं भवनों में हिंदू देवी-

देवताओं की तस्वीरें-मूर्तियां आदि लगी होना आम बात है. सरकारी बसों एवं अन्य वाहनों में भी देवी-देवताओं की तस्वीरें अथवा हिंदू धार्मिक प्रतीक लगे रहते हैं. सरकारी इमारतों, बांधों एवं अन्य परियोजनाओं के शिलान्यास एवं उद्घाटन के अवसर पर हिंदू कर्मकांड किए जाते हैं.

Read more

दिल्‍ली का बाबूः पीएमओ ने मांगी स़फाई

प्रधानमंत्री कार्यालय ने पंजाब और सिंध बैंक के नए मुखिया की नियुक्ति पर वित्त मंत्रालय की पसंद पर सवाल उठाए हैं. इस बैंक का मुखिया पारंपरिक रूप से एक सिख को बनाया जाता रहा है. जब जी एस बेदी का नाम इस बैंक के चेयरमैन पद के लिए चुना गया, तब पीएमओ ने कहा कि बैंक प्रमुख का चुनाव करते व़क्त उम्मीदवार की प्रतिभा पर ध्यान दिया जाना चाहिए, न कि किन्हीं अन्य बातों पर.

Read more

अब भारत में भी इंडिया फर्स्ट लाइ़फ इंश्योरेंस

भारत के दो प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों-बैंक ऑफ बड़ौदा एवं आंध्रा बैंक के साथ यूके की अग्रणी जोखिम, संपदा एवं निवेश कंपनी लीगल एवं जनरल के एक संयुक्त उद्यम इंडिया फर्स्ट इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड ने इसकी शुरुआत करने की घोषणा की है.

Read more