मोदी सरकार ने तीन साल में हटाए 1159 पुराने क़ानून : क़ानूनी किताब का ‘अंग्रेजी’ पाठ

कानून की किताब में जितने नए अध्याय ज़ुडे हैं, उससे कहीं अधिक हटाए गए हैं. ये ब्रिटिशकालीन अध्याय कानूनी किताब

Read more

साहस की मिसाल थीं क्रिस्टिना स्कारबेक

मारिया क्रिस्टिना जैनिना स्कारबेक, जिन्हें क्रिस्टीन ग्रैनविले के नाम से भी जाना जाता था, द्वितीय विश्‍व युद्ध के दौरान ब्रिटेन

Read more

टकसाल का राष्ट्रीयकरण

आपको ज्ञात होगा कि बैंक, नोट अथवा सिक्के (करेंसी)आज के युग में कितने आवश्यक हैं. किसी भी सभ्य देश का काम इनके बिना चल ही नहीं सकता. सिक्कों में किस अनुपात में कौन सी धातु मिलाई जाए और इस पर कौन से राष्ट्रीय चिन्ह (अशोक स्तंभ) आदि की छाप लगाई जाए, ये सब काम सरकारी टकसाल के हैं.

Read more

जन्म प्रमाणपत्र की जंग

जेनकिंस का फटा कान 1739 में ब्रिटेन और स्पेन के बीच युद्ध का कारण बना था. रॉबर्ट जेनकिंस ने स्पेन की क्रूरता दिखाने के लिए अपने फटे कान को ब्रिटिश संसद के सामने पेश किया था. इसने ब्रिटेन और स्पेन के बीच युद्ध करा दिया. भारत में इस समय थल सेनाध्यक्ष के जन्म प्रमाण पत्र की लड़ाई चल रही है. अपने जन्म प्रमाण पत्र संबंधी मामले में जनरल की हार हुई.

Read more

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव और मुद्दे

ब्रिटिश सार्वजनिक जीवन की एक आधारभूत सच्चाई यह है कि वहां के टैक्सी चालक को भी अपने देश के राजनीतिक हालात के बारे में जानकारी होती है और जब आप टैक्सी से यात्रा कर रहे हों तो वह आपको मौजूदा राजनीतिक गतिविधियों के बारे में बता सकता है.

Read more

क्रांति को प्रेम से क्या ख़तरा है

क्रांति और प्रेम एक सिक्के के दो पहलू हैं. क्रांति प्रेम से ही पनपती है. दुनिया की बड़ी-बड़ी क्रांतियां प्रेम की वजह से ही हुई हैं. चाहे देश प्रेम हो या फिर किसी के प्रति प्रेम. ऐसे में एक क्रांतिकारी को प्रेम हो जाए तो इसमें ग़लत क्या है?

Read more

यह धर्म निरपेक्षता नहीं है

भारतीय इतिहास में तुर्की की एक अहम भूमिका रही है. भारत के विभाजन के केंद्र में भी इसका नाम रहा और इसके बाद भारत द्वारा धर्मनिरपेक्षवाद अपनाए जाने के पीछे भी वजह तुर्की ही था. प्रथम विश्व युद्ध के व़क्त जब ओटोमन सुल्तान की हार हुई, तब उसे अपने खलीफा पद पर भी ख़तरा मंडराता नज़र आया.

Read more

ब्रिटिश संसद से कुछ सीखें

लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार हाउस ऑफ लॉड्‌र्स की अध्यक्ष हेलेन हेयमैन से मिलने पहुंचीं. मीरा कुमार यह आशा कर रही थीं कि हेयमैन से मिलने के दौरान एक भोज का आयोजन होगा और लॉड्‌र्स अध्यक्ष उनके साथ ख़ूब सारा समय बिताएंगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

Read more

स्‍वाधीनता संग्राम और मुसलमान

इस साल कांग्रेस अपना 125वां स्थापना दिवस मना रही है. भारत के सभी धर्मों के नागरिकों ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के ज़रिए स्वतंत्रता आंदोलन में अपना योगदान दिया, परंतु हमारे नेताओं की बहुसंख्यकवादी मानसिकता और स्कूली पाठ्‌यक्रम तैयार करने वालों के संकीर्ण दृष्टिकोण के चलते भारतीय स्वाधीनता आंदोलन में अल्पसंख्यकों की भूमिका को पूरी तरह से नज़रअंदाज़ कर दिया गया है.

Read more

सर्विस इकोनोमी या सर्वेंट इकोनोमी

कुछ दिन पहले प्रकाशित एक किताब के मुताबिक़ आज से सौ साल पहले इंग्लैंड में घरेलू नौकर रोजगार का सबसे बड़ा स्त्रोत था. साधारण सा दिखने वाला यह तथ्य एक वर्ग-आधारित समाज में व्याप्त असमानता का सटीक चित्रण करता है और विक्टोरियन एवं उसके बाद के समाज में धन और सत्ता के बीच नजदीकी रिश्तों के बारे में भी बताता है.

Read more

गांधी जी और बटक मियां

लंदन से दक्षिण अफ्रीका लौटते व़क्त राष्ट्रपिता गांधी ने जो संवाद लिखा था, वह बाद में हिंद स्वराज के नाम से पुस्तकाकार भी छपा. इस पुस्तक के प्रकाशन के सौ साल पूरे होने पर बुद्धिजीवियों के बीच जमकर बहस-मुहाबिसा हुआ. हिंद स्वराज का प्रकाशन आंशिक और पूर्ण रूप से पत्र-पत्रिकाओं में हुआ और नई पीढ़ी को एक बार फिर से राष्ट्रपिता गांधी को जानने-समझने का अवसर मिला.

Read more