राजधानी क्षेत्र के लिए गूगल टॉयलेट लोकेटर की शुरुआत की जायेगी

शहरी विकास मंत्रालय ने सभी राज्‍यों और शहरों के प्रशासन से आज से शुरू होने वाले स्‍वच्‍छता पखवाड़े के दौरान

Read more

भूमि अधिग्रहण अध्यादेश के खिला़फ : किसान गोलबंद हो रहे हैं

राजधानी दिल्ली में आएदिन भूमि अधिग्रहण अध्यादेश का विरोध करने एवं उसे रद्द करने की मांग को लेकर किसान और

Read more

बर्लिन वॉल के विघ्वंस के 25 साल: वास्तविक दिवार के गिरने में अभी वक़्त लगेगा

जर्मनी में चांसलर एंजेला मार्केल के नेतृत्व में बर्लिन की दीवार गिराए जाने की 25 वीं वर्षगांठ का जश्‍न बड़ी

Read more

दिल्ली का बाबू : दयनीय सतर्कता

भारतीय वन सेवा अधिकारी संजीव चतुर्वेदी जहां जाते हैं, परेशानियां उनके पीछे-पीछे चली आती हैं. हरियाणा की तत्कालीन हुड्डा सरकार

Read more

फर्जी प्रमाणपत्र पर सांसद बने राम चरित्र

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी के नेता उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बैठ कर दलितों और

Read more

लालू और नितीश का मिलाप समाजवाद या अवसरवाद

नीतीश कुमार और लालू प्रसाद बिहार की छात्र राजनीति और जयप्रकाश आंदोलन की उपज हैं. इन दोनों नेताओं ने एक

Read more

प्रधानमंत्री विदेशी पूंजी लाएंगे

विदेशी पूंजी निवेश के बारे में पिछली बार सरकार ने फैसला ले लिया था, लेकिन संसद के अंदर यूपीए के सहयोगियों ने ही ऐसा विरोध किया कि सरकार को पीछे हटना पड़ा. खुदरा बाज़ार में विदेशी निवेश का विरोध करने वालों में ममता बनर्जी सबसे आगे रहीं. सरकार ने कमाल कर दिया. भारत दौरे पर आई अमेरिका की विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ममता से मिलने सीधे कोलकाता पहुंच गईं.

Read more

महिला पत्रकार भारतीय मीडिया से ग़ायब हैं

पिछले कुछ वर्षों ख़ासकर नब्बे के दशक के बाद हिंदुस्तान का एक तबक़ा यह मानने लगा कि देश की आत्मा अब दिल्ली और राज्यों की राजधानियों में ही बसने लगी है. उनका मानना है कि महानगरों में महिलाओं को पुरुषों की तरह शिक्षा और रोज़गार के समान अवसर मिल रहे हैं.

Read more

झारखंडः फिर खुलेगी गठबंधन की कलई

प्राकृतिक तापमान में बढ़ोत्तरी के साथ-साथ झारखंड में सियासी गर्मी भी तेज़ी से बढ़ रही है. आगामी 12 जून को होने वाले हटिया विधानसभा क्षेत्र उपचुनाव को लेकर सूबे में राजनीतिक वातावरण बदला-बदला सा दिख रहा है. सत्तारूढ़ एवं विपक्षी पार्टियों ने हटिया के दंगल में उतरने की तैयारी लगभग पूरी कर ली है.

Read more

खुदरा बाज़ार में विदेशी निवेश : यह एक छलावा है

भारतीय राजनीति में शर्मनाक कीर्तिमान स्थापित हो रहे हैं. क्या हमने अमेरिका को भारत की आंतरिक राजनीति में हस्तक्षेप करने की छूट दे दी है. अगर नहीं, तो देश की विपक्षी पार्टियां और मीडिया ने यह बात क्यों नहीं उठाई कि अमेरिका की विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने ममता बनर्जी से खुदरा बाज़ार में विदेशी पूंजी निवेश जैसे विवादित मामले पर क्यों बात की?

Read more

रुपयों से ख़रीदे गए रुपये

पूंजी बाज़ार वह जगह है, जहां साल भर की कमाई एकमुश्त रकम के बदले ख़रीदी या बेची जाती है. एक हज़ार रुपये में आप कितनी कमाई ख़रीद सकते हैं, यह भाव रोज़ाना बदलता रहता है. और किसी दिन एकमुश्त रकमें कम हैं तो ज़्यादा कमाई ख़रीद सकते हैं.

Read more

पूंजी बाज़ार

फिर भी, मान लीजिए आपके पास थोड़े रुपये फालतू पड़े हुए हैं, तो आप उनका किस तरह से इंवेस्टमेंट करते हैं, इसकी चालू प्रणाली कैसी है, इसका ज़रा अवलोकन कर लें. जहां आपका रुपया काम में लाया जाता है या इंवेस्ट होता है, उस संस्था को पूंजी बाज़ार कहते हैं. कहते हैं, फिर भी यह कोई इस तरह का बाज़ार नहीं है जहां हाट लगी हो.

Read more

पूंजी-विकास के माध्यम

इस परिस्थिति को संभालने के लिए, जैसा स्वाभाविक है, एक तीसरी श्रेणी, जो इन दो श्रेणियों का जोड़-तोड़ बैठा सके, खड़ी हुई. यह तीसरी श्रेणी मध्यम श्रेणी के नाम से पुकारी जाती है. यह मध्यम श्रेणी किस तरह से उत्पन्न हुई, इसका भी विचित्र इतिहास है. राजा, ठाकुर या जमींदार भूमि के स्वामी थे.

Read more

किराएदारों में खौफ : दिल्ली में प्रॉपर्टी डीलर माफिया बन गए हैं

जिंदगी जीने और सिर छुपाने के लिए एक अदद छत की ज़रूरत होती है, लेकिन अमूमन छोटे शहरों की तरह आसानी से मिलने वाली किराए की छत को दिल्ली में प्रॉपर्टी डीलरों की नज़र लग गई है. तक़रीबन डेढ़ दशक पहले राजधानी दिल्ली में भी निजी पहचान के ज़रिए अथवा ख़ुद सीधे मकान मालिक से संपर्क करके लोग किराए के घर में रहते थे, लेकिन अब यह मुमकिन नहीं है.

Read more

द बैड सेंटा

इटली की राजधानी रोम में बीते दो महीनों में छह बड़ी दुकानों में चोरी हुई. एक दुकानदार ने पुलिस को बताया कि विचित्र वेशभूषा में आए एक व्यक्ति ने बंदूक की नोंक पर कैशियर को लूट लिया. कई दिनों तक माथापच्ची करने के बाद पुलिस को सुराग मिला.

Read more