सीआईए चीफ ने कहा, तबाह कर देंगे पाकिस्तान के आतंकी ठिकाने

पाकिस्तान प्रायोजित आतंक के मुद्दे पर अमेरिका ने बेहद कड़ा रुख अख्तियार किया है. सीआईए चीफ माइक पॉमपियो ने कहा

Read more

CIA का खुलासा: इस बॉलीवुड सिंगर के गाने सुनना पसंद करता था ओसामा बिन लादेन

एक वक्त में दुनिया का सबसे खूंखार आतंकवादी समझा जाने वाला ओसामा बिन लादेन अब मारा जा चुका है लेकिन

Read more

ट्रंप के आदेश पर खोले जाएंगे इस राष्ट्रपति की हत्या के दस्तावेज

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आए दिन अपने बयानों और फैसले की वजह से सुर्खियों में बने रहते हैं. गुरूवार को

Read more

नए शीत युद्ध का खतरा

बीते दिनों अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने सफाई दी कि यूक्रेन के मसले पर रूस और अमेरिका के बीच तनाव

Read more

कई देशों में सत्ता परिवर्तन कर चुका है सीआईए

भारत में फोर्ड फाउंडेशन द्वारा पोषित और संचालित  संगठनों और उससे जुड़े सामाजिक कार्यकर्ताओं को बड़ी इज्जत दी जाती है.

Read more

विदेशी फंड से संचालित गैर सरकारी संगठन देश के लिए खतरा है

सरकार की रिपोर्ट आई है कि विदेशी धन से चलने वाले देशी एनजीओ भारत के आर्थिक विकास के लिए ख़तरा

Read more

जब तोप मुकाबिल हो : कलंकित हो रहा है पत्रकारिता का आदर्श

आज जब पत्रकारिता पैसे लेकर लोगों के हितों को साध रही है. जर्नलिज़्म ऑफ करेज का लेबल देकर जर्नलिज़्म ऑफ़

Read more

संभालिए, अभी कुछ बिगडा़ नहीं है

बहुत सारी चीजें अमेरिका में बनती हैं, अमेरिका में खुलती हैं, तब हमें पता चलता है कि हम किस तरह के जाल में कभी फंस चुके थे, इन दिनों फंस रहे हैं या आगे फंसने वाले हैं. हमारे देश की धुरंधर हस्तियां, जो लोगों की राय बनाती हैं, जिनमें जस्टिस राजेंद्र सच्चर, दिलीप पडगांवकर, उम्र के आखिरी पड़ाव पर खड़े प्रसिद्ध संपादक, लेखक एवं सोशल एक्टिविस्ट कुलदीप नैय्यर साहब और गौतम नवलखा शामिल हैं, जिन्होंने रूरल जर्नलिज्म और वैचारिक पत्रकारिता में नाम कमाया तथा इनके साथ बहुत सारे लोग एक साजिश में फंसे नजर आ रहे हैं, जिसका खुलासा अमेरिका में हुआ.

Read more

सुदर्शन का साइड इफेक्‍ट

विदेशी मूल से लेकर पति-सास की हत्या में संलिप्तता के आरोपों से घिरा सोनिया गांधी का कथित लांछनीय सियासी सफर हर दृष्टिकोण से सफल रहा है. यद्यपि उनके विरोधियों ने उक्त आरोपों के सहारे उनके सियासी क़दम को रोकने की पूरी कोशिश की, लेकिन उसका साइड इफेक्ट सोनिया गांधी के अनुकूल रहा.

Read more

मेनका गांधी और वरुण गांधी को सच्चाई बतानी चाहिए

अफसोस किस पर करें. राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ क्या इससे नीचे भी गिरेगा या यही इसकी सीमा है. हमने हमेशा राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ को नैतिकता का नाम लेते और शालीनता का व्यवहार करते देखा है. जो लोग संघ को ज़्यादा जानते हैं, वे इस पर ज़्यादा भरोसा नहीं करते तथा कहते हैं कि वह संघ का बाहरी चेहरा है.

Read more

आतंकवाद : वास्तविकता को पहचानने की ज़रूरत

सैन्य अभियान समस्या का कोई समाधान नहीं है. इस मुद्दे के साथ कई पहलू जुड़े हैं, जिनके लिए एक बहुआयामी

Read more

प्रधानमंत्री जी, देश की ओर ईमानदारी से देखिए

लोकसभा और राज्यसभा में एक दिन का शोरशराबा और बात ख़त्म. केवल रस्म अदायगी हुई. एक पत्रिका ने छापा कि भारत सरकार की एक एजेंसी फोन टेप कर रही है. नाम आए, नीतीश कुमार और दिग्विजय सिंह के. पर यह सतही सच्चाई है. यह हमारा ध्यान बंटाने की सफल कोशिश हुई है. साजिश बहुत गहरी है, जिसके सिरे न्यायाधीशों, राजनीतिज्ञों और पत्रकारों तक पहुंचते हैं.

Read more

हेडली से 26 नवंबर की पूरी सूची मांगें

डेविड कोलमैन हेडली उर्फ दाऊद गिलानी उर्फ जाने क्या-क्या. अलग-अलग पहचान और विश्वासों के साथ केवल एक चीज के प्रति ही हेडली प्रतिबद्ध रहा है, धोखा और अविश्वास के आधुनिकतम सिद्धांतों के प्रति. यह सही है कि आप उसे विश्व के सर्वश्रेष्ठ अपराधियों की श्रेणी में नहीं रख सकते.

Read more

केजीबी का मिशन और कैंब्रिज फाइव

यह कहानी उस शख्‍स की है, जिसका जन्म तो भारत में हुआ, लेकिन वह एक ब्रिटिश आर्मी अ़फसर का बेटा था, यानी ब्रिटिश नागरिक. पर पूरी ज़िंदगी उसने एक ऐसी ख़ु़फिया एजेंसी के लिए काम किया, जो ख़ौ़फ और क़हर का दूसरा नाम है. केजीबी के लिए.

Read more

अमेरिका, दक्षिण एशिया और मानव बम

दक्षिण एशिया आज फिदायीन हमलों से दहल रहा है. जिहाद पर आमादा लोग इस बात से बेपरवाह हैं कि उनकी कमर पर बंधा बम उनकी धज्जियां उड़ा देगा.

Read more

सीआईए और मोसाद का स्माइल इंडिया 2015

यह अमेरिकी खु़फिया एजेंसी सीआईए का मिशन हिंदुस्तान 2015 है, जो भारत को टुकड़े-टुकड़े कर इसके वज़ूद को ख़त्म करने की ख़ौ़फनाक साज़िश है. इस मिशन पर अमेरिकी खु़फिया एजेंसी सीआईए ने अपनी पूरी ताक़त झोंक दी है. सीआईए की मंशा है कि

Read more

सीआईए और मोसाद के खतरनाक खेल से सावधान रहें

हमारे देश के ऊपर एक गंभीर खतरा मंडरा रहा है. जिन पर इस ख़तरे से निपटने की ज़िम्मेदारी है, वे हाथ पर हाथ रखकर बैठे हैं. एक तरह से उनका साथ दे रहे हैं. हमारे सरकारी तंत्र को भी इस खतरे के बारे में पता है, लेकिन वह कुछ भी करने में असमर्थ है.

Read more

केजीबी का ऑपरेशन स्टॉर्म यानी एक राष्ट्रपति की हत्या

खुफिया दुनिया में जासूसों का अपनी पहचान बदलना कोई नई बात नहीं है. बहुरुपिए के तौर पर इन जासूसों ने कई ख़तरनाक और अहम मिशन को अंजाम दिया है. यही कहानी केजीबी के जासूस मितालियन टेलिबोव की है.

Read more

ब्लैक वाटर के जरिए पाकिस्तान में अमेरिकी हस्तक्षेप

एरिक प्रिंस ख़ुद को ईसाइयों का धर्मयोद्धा मानता है. उसका मक़सद दुनिया के ऩक्शे से मुसलमानों और इस्लामिक आस्था को मिटाना है. पाकिस्तान में ब्लैक वाटर को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं का बाज़ार गर्म है.

Read more